मोदी के इंडिया में EVM के पास जादुई ताकतेंः राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी(फोटोः INC)

मोदी के इंडिया में EVM के पास जादुई ताकतेंः राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में EVM के साथ कथित छेड़छाड़ की कोशिश संबंधी खबरों को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. राहुल ने तंज कसते हुए कहा कि इस सरकार में वोटिंग मशीनों के भीतर ‘रहस्यमयी शक्तियां' आ गई हैं. उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे तेलंगाना और राजस्थान में मतदान के बाद सतर्क रहें.

दरअसल, खबरों के मुताबिक, मध्य प्रदेश में कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया था कि खुरई और कुछ दूसकी जगहों पर मतदान के दो दिन बाद स्ट्रॉन्ग रूम तक पहुंचाई गईं और एक जगह होटल के कमरे में EVM रखी गई थी. गांधी ने इन्हीं खबरों का उल्लेख करते हुए ट्वीट किया.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया-

कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं, आज के मतदान के बाद आप सतर्क रहिए. मध्य प्रदेश में मतदान के बाद ईवीएम ने अजीबो-गरीब ढंग से व्यवहार किया. कुछ ने बस चुरा ली और दो दिन के लिए गायब हो गईं. कुछ मशीनें होटल में ड्रिंक करते पाईं गई. मोदी के भारत में ईवीएम में रहस्यमयी शक्तियां आ गई हैं. सतर्क रहिए.

मध्यप्रदेश में सिंधिया ने उठाया था EVM का मुद्दा


मध्यप्रदेश चुनावों में कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने EVM में धांधली होने की आशंका जताई थी. उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि 'भोपाल के स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर लगी एलईडी बंद होना, सागर में गृहमंत्री की सीट की रिजर्व ईवीएम मशीनों का 48 घंटे बाद पहुंचना, सतना-खरगोन में अज्ञात बक्से का स्ट्रॉन्ग रूम में ले जाने के वीडियो का सामने आना कहीं न कहीं बड़ी साजिश की ओर इशारा है.'

‘बीजेपी अपनी संभावित हार देखते हुए लोकतंत्र की हत्या और जनता के मत को कुचलने पर अमादा हो गई है. ये सरकार के संरक्षण में लोकतंत्र की हत्या का प्रयास है.’
कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया

सिंधिया ने चुनाव आयोग से कार्रवाई करने के साथ ईवीएम मशीनों की सुरक्षा तय करने की अपील की थी. साथ ही उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से भी स्ट्रॉन्ग रूम पर नजर बनाए रखने की भी अपील की थी.

कांग्रेस के बड़े नेता और राज्य सभा सांसद अहमद पटेल ने भी ट्विटर पर एक वीडियो शेयर कर आशंका जताई थी. उन्होंने ट्वीट में कहा कि मध्यप्रदेश में बीजेपी हार के डर से नए-नए हथकंडे अपना रही है.

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our पॉलिटिक्स section for more stories.

    वीडियो