TMC ने सुवेंदु के पिता शिशिर अधिकारी को अहम प्रशासनिक पद से हटाया

तृणमूल कांग्रेस ने अधिकारी के स्थान पर रामनगर विधानसभा सीट से विधायक अखिल गिरि को यह जिम्मेदारी सौंपी है.

Published
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी
i

सुवेंदु अधिकारी और उनके छोटे भाई सौमेंदु के बीजेपी में जाने के बाद तृणमूल कांग्रेस ने लोकसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री शिशिर अधिकारी को एक प्रमुख प्रशासनिक पद से हटा दिया. पूर्वी मिदनापुर इलाके में प्रभाव रखने वाले नेताओं के पिता और तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद शिशिर अधिकारी को दीघा शंकरपुर विकास प्राधिकरण (डीएसडीए) के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है. तृणमूल कांग्रेस ने अधिकारी के स्थान पर रामनगर विधानसभा सीट से विधायक अखिल गिरि को यह जिम्मेदारी सौंपी है.

उम्र का हवाला देते हुए पद से हटाया!

सूत्रों ने कहा कि अधिकारी कोविड-19 महामारी के कारण ज्यादातर समय घर पर ही बिता रहे हैं और उनकी उम्र को ध्यान में रखते हुए पार्टी ने गिरि को डीएसडीए समिति का नया अध्यक्ष नियुक्त करने का फैसला किया है. यह निर्णय काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इस वर्ष अप्रैल-मई में आगामी राज्य विधानसभा चुनावों से पहले कुछ परियोजनाओं में तेजी लाने के लिए विकास निकाय की जरूरत है.

गिरि ने कहा, "शिशिर अधिकारी ने डीएसडीए के अध्यक्ष के रूप में कुछ नहीं किया, इसलिए उन्हें हटा दिया गया है." सूत्रों ने कहा कि गिरि आधिकारिक तौर पर 13 जनवरी से नए अध्यक्ष के रूप में कार्य शुरू कर देंगे. गिरि को जिले में अधिकारी परिवार का विरोधी माना जाता है.

सुवेंदु के भाई ने भी थाम लिया था बीजेपी का दामन

तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि अध्यक्ष के रूप में स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों के कारण शिशिर अधिकारी लंबे समय तक कार्य करने में सक्षम नहीं थे.सुवेंदु अधिकारी के तृणमूल कांग्रेस से इस्तीफा देने और बंगाल भगवा ब्रिगेड में उनके शामिल होने के बाद उनके छोटे भाई सौमेंदु को भी कोंताई नगरपालिका के प्रशासक के पद से हटा दिया गया था. बाद में, सौमेंदु ने भी अपने बड़े भाई की तरह भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का दामन थाम लिया.ृ

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!