पत्नी का आरोप, 18 जनवरी से लापता हार्दिक पटेल,सरकार बना रही निशाना

हार्दिक पटेल को 18 जनवरी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था

Updated
राज्य
2 min read
हार्दिक पटेल की पत्नी किंजल ने आरोप लगाया है कि हार्दिक 18 जनवरी से ही लापता हैं
i

गुजरात के युवा पाटीदार और कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल की पत्नी किंजल पटेल ने आरोप लगाया है कि हार्दिक पिछले करीब 20 दिनों से लापता हैं. किंजल ने गुजरात प्रशासन पर सिर्फ हार्दिक को निशाना बनाने का आरोप भी लगाया. उनका आरोप है कि 18 जनवरी के बाद से ही हार्दिक का कोई पता नहीं है.

पाटीदार नेताओं के एक कार्यक्रम में बोलते हुए किंजल ने दावा किया,

“18 जनवरी को गिरफ्तारी के बाद से ही हार्दिक पटेल लापता है. हमें नहीं पता कि वो कहां है, लेकिन पुलिस लगातार हमारे घर आती है और मुझसे उसके बारे में पूछती रहती है.”

कब, क्या हुआ?

  • 18 जनवरी को अहमदाबाद के विरमगाम तालुका से हार्दिक पटेल को पुलिस ने गिरफ्तार किया. एक सुनवाई के लिए पेश नहीं होने के कारण अहमदाबाद की एक कोर्ट ने हार्दिक के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था. हार्दिक पर 2015 के पाटीदार आरक्षण आंदोलन से जुड़ी हिंसा के मामले में राष्ट्रद्रोह का केस चल रहा है.
  • 4 दिन बाद ही हार्दिक को जमानत दे दी गई, लेकिन पाटन और गांधीनगर में दर्ज 2 और मुकदमों के कारण उन्हें दोबारा गिरफ्तार कर लिया गया. इन दोनों ही मामलों मे 24 जनवरी को उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया.
  • हालांकि, एक बार फिर सुनवाई के लिए पेश न होने के कारण 7 फरवरी को भी हार्दिक के खिलाफ एक और गैर-जमानती वारंट जारी किया गया.

2015 के आंदोलन के मामले में हार्दिक के खिलाफ पूरे राज्य में करीब 20 मुकदमे दर्ज हैं.

सामने आए हार्दिक के ट्वीट

इन सबके बीच हार्दिक पटेल के ट्विटर अकाउंट पर पिछले कुछ दिनों में ट्वीट हुए हैं, जिसमें 12 फरवरी का एक ट्वीट भी. इसमें वो अरविंद केजरीवाल को एक बार फिर दिल्ली का मुख्यमंत्री बनने की बधाई दे रहे हैं.

वहीं 11 फरवरी को भी हार्दिक ने ट्वीट कर गुजरात सरकार पर आरोप लगाया कि राज्य में आने वाले पंचायत चुनावों के कारण ही सरकार उन्हें जेल में बंद करना चाहती है.

इससे पहले 9 फरवरी और 24 जनवरी को भी हार्दिक के अकाउंट से कुछ ट्वीट हुए हैं. 24 जनवरी को जिस दिन हार्दिक को जमानत मिली थी, उस दिन हार्दिक ने ट्वीट किया था-

“सात दिन के बाद सरकारी तानाशाही की हिरासत से आज आज़ाद हुआ हूँ। मेरा गुनाह क्या.? किसान, नौजवान, गाँव, शिक्षा और छात्रों के अधिकार में आवाज़ उठाने का अवसर मुझे संविधान देता हैं। सरकार में बेठे हिटलरवादी लोगों ने मुझे डराने और झुकने के लिए सभी ताक़त का इस्तेमाल कर दिया हैं। जय हिंद”

हालांकि ये साफ नहीं है कि ये ट्वीट हार्दिक ने खुद किए हैं या उनकी पत्नी किंजल ने. ऐसा इसलिए क्योंकि हार्दिक की गिरफ्तारी के वक्त 22 और 23 जनवरी को किंजल पटेल ने अपना नाम लिखते हुए हार्दिक के अकाउंट से 2 ट्वीट किए थे.

पत्नी का आरोप, 18 जनवरी से लापता हार्दिक पटेल,सरकार बना रही निशाना
(फोटोः ट्विटर स्क्रीनशॉट)

इससे पहले हार्दिक की गिरफ्तारी के बाद से ही प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी सरकार पर हार्दिक को जबरन प्रताड़ित करने का आरोप लगाय था.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!