ADVERTISEMENT

''पुलिस-माफिया एक है''-पानीपत के 'सिंघम' का इस्तीफा, SP बोले मानसिक तनाव तो नहीं

Haryana Panipat: हेडकांस्टेबल आशीष कुमार का आरोप है- पुलिस अपराधियों से मिली हुई है, पकड़े गए तस्करों को छोड़ देती है

Published
राज्य
2 min read
''पुलिस-माफिया एक है''-पानीपत के 'सिंघम' का इस्तीफा, SP बोले मानसिक तनाव तो नहीं
i

हरियाणा (Haryana) के पानीपत में 'सिंघम' के नाम से प्रसिद्ध हेड कॉन्स्टेबल ने नौकरी से इस्तीफा (Panipat Singham Ashish Kumar Resign) दे दिया है. इस्तीफा देने वाले हेडकांस्टेबल आशीष कुमार का आरोप है पुलिस अपराधियों से मिली हुई है और ऐसे माहौल में वे नौकरी नहीं कर सकते. दूसरी तरफ पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने हेडकांस्टेबल आशीष कुमार पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए कहा है कि हेडकांस्टेबल कई बार मानसिक तनाव के बारे में बात कर चुका है, वो दो मामलों में आरोपी भी है और पहले भी इस्तीफे की अर्जी दे चुका है.

ADVERTISEMENT

"आलाधिकारी कोई नहीं सुनता, आज तक दबाव में ही काम किया"

हेडकांस्टेबल आशीष कुमार ने जिला पुलिस पर संगीन आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस अपराधियों के साथ मिली हुई है इसलिए वह अब इस माहौल में नौकरी नहीं कर पाएंगे. पानीपत पुलिस के हेड कांस्टेबल आशीष ने बताया कि 3 दिन की रेड में हर दिन नशा की तस्करी करने वाले पकड़े गए लेकिन पुलिस ही मिलीभगत करके अपराधियों को छोड़ देती है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कोई भी आलाधिकारी उनकी बात नहीं सुनता और उन्होंने आज तक हर काम दबाव में किया है, लेकिन अब इस्तीफा दे रहे हैं क्योंकि वे सिस्टम से नहीं लड़ सकते.

बता दें हेड कांस्टेबल आशीष कुमार लगातार अपने कार्यों के चलते अक्सर सुर्खियों में रहते हैं. पानीपत के लोग आशीष को सिंघम के नाम से जाने लगे थे. लेकिन हेड कांस्टेबल आशीष कुमार जब लघु सचिवालय स्थित एसपी ऑफिस में अपना इस्तीफा लेकर जब वे अपना इस्तीफा लेकर पहुंचे तो सचिवालय में मौजूद कर्मचारी और आमजन हैरान थे. हेड कांस्टेबल आशीष कुमार ने बताया कि अब वह नौकरी नहीं कर पाएंगे, उनके ऊपर हर तरह का दबाव डाला जा रहा है.
ADVERTISEMENT

हेडकांस्टेबल मनमर्जी से अलग-अलग क्षेत्रों पर ड्यूटी करता था- SP

हेड कांस्टेबल आशीष कुमार द्वारा इस्तीफा सौंपने और पुलिस महकमे पर आरोप लगाए जाने के बाद पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन ने कहा कि "आशीष कुमार निर्धारित ड्यूटी स्थान के अलावा दूसरी जगहों पर भी पहुंच कर दबित देता था. आशीष कुमार लंबे समय से अनुशासनहीनता का परिचय दे रहा था."

"आशीष कुमार कई बार मानसिक तनाव के बारे में बात कर चुका है. वो दो मामलों में आरोपी भी है. पहले भी इस्तीफा दे चुका, लेकिन उसकी काउंसिलिंग करके उसे समझाया गया. जरूरत पड़ी फिर काउंसिलिंग करवाई जाएगी."
पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार

पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार ने साथ ही कहा कि हेड कांस्टेबल आशीष कुमार ने महकमे पर जो आरोप लगाए हैं, उसकी भी जांच कराई जाएगी. उन्होंने बताया कि इससे पहले भी 2018 में आशीष कुमार ने स्वेच्छा से रिटायर्डमेंट लेने की अर्जी दी थी. उस समय भी उच्च अधिकारियों द्वारा काउंसलिंग करवाकर समझाकर विभाग में बने रहने दिया था.

वहीं इस मामले पर पानीपत बीजेपी के विधायक प्रमोद विज ने बोलते हुए कहा कि "हेड कांस्टेबल आशीष अच्छे कार्य कर रहे थे. मामले के बारे में अभी जानकारी मिली है. अगर हेड कांस्टेबल आशीष आएंगे तो उसकी जरूर सुनी जाएगी. बाकी मामले की जांच पुलिस के उच्च अधिकारी करेंगे."

इनपुट- परवेज आलम

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
और देखें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×