Q लखनऊ: EVM को लेकर अखिलेश नाराज, मायावती का BJP पर आरोप
चुनाव नतीजों में दिखेगा मोदी सरकार के प्रति जनता की नाराजगी का असर: प्रियंका
चुनाव नतीजों में दिखेगा मोदी सरकार के प्रति जनता की नाराजगी का असर: प्रियंका(फोटो: Altered by Quint Hindi)

Q लखनऊ: EVM को लेकर अखिलेश नाराज, मायावती का BJP पर आरोप

पूरे भारत में ईवीएम खराब: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि पूरे भारत में ईवीएम या तो गड़बड़ हैं या फिर बीजेपी के पक्ष में वोट डाल रही हैं.

अखिलेश ने चुनाव आयोग को टैग करते हुए ट्वीट किया, ''पूरे भारत में ईवीएम इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन या तो खराब हैं या फिर बीजेपी के लिए वोट कर रही हैं.''

उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी कहते हैं कि निर्वाचन अधिकारी ईवीएम परिचालन की दृष्टि से प्रशिक्षित नहीं हैं. साढे़ तीन सौ से अधिक ईवीएम बदली जा रही हैं.

एसपी प्रमुख ने कहा कि ‘यह चुनावी प्रक्रिया के लिहाज से आपराधिक लापरवाही है, वह चुनावी प्रक्रिया, जिस पर 50 हजार करोड़ रूपये खर्च हो रहे हैं. उत्तर प्रदेश में दस सीटों के लिए तीसरे चरण के तहत आज मतदान हो रहा है.’

ये भी पढ़ें : अक्षय ने लिया PM मोदी का इंटरव्यू, पूछा-परिवार को मिस नहीं करते?

हार के डर से अब EVM का रोना रो रहे अखिलेश- केशव प्रसाद मौर्य

यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि तीसरे चरण के चुनाव के बाद हार के डर से समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन को लेकर सवाल उठा रहे हैं.

मौर्य ने तीन अलग-अलग स्थानों पर जनसभाओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘अखिलेश यादव जी को अब अपनी हार का अहसास हो गया है . वह अपने ही गढ़ में हार रहे हैं . इसलिए ईवीएम पर सवाल खड़े करना शुरू कर दिया है. बीजेपी को जनता का प्यार मिल रहा है. इसकी वजह से एसपी बएसपी में बौखलाहट है. अब उनके पास कोई और मुद्दा नहीं है, इसीलिए फिर से ईवीएम का दुखड़ा रोना शुरू कर दिया है .''

उप मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में जब हम चुनाव हारे तो उस समय ईवीएम मशीन ठीक थी. विपक्ष के पास जनता में इस दुखड़े के अलावा कुछ और नहीं बचा है. इससे पहले एसपी प्रमुख समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को आरोप लगाया कि पूरे भारत में ईवीएम या तो गड़बड़ हैं या फिर यह बीजेपी के पक्ष में मतदान कर रहा है.

उत्तर प्रदेश की 10 सीटों पर 60.52 प्रतिशत मतदान

लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में उत्तर प्रदेश की 10 सीटों के लिए मंगलवार को 60.52 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. सबसे अधिक मतदान पीलीभीत में 64.60 प्रतिशत हुआ. पिछली बार इस सीट के लिए 62.92 फीसदी वोट पड़े थे.

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने बताया, "जो मतदाता मतदान केंद्रों पर छह बजे तक पहुंच चुके थे, उन्हें भी वोट डालने का अवसर दिया गया. इसके चलते मतदान एक-दो प्रतिशत तक बढ़ सकता है. तीसरे चरण के मतदान में छिटपुट घटनाओं को छोड़कर कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है."

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मुरादाबाद में 64.11% रामपुर में 60% सम्भल में 61.80% फिरोजाबाद में 58.80% मैनपुरी में 57.80% एटा में 59. 90% बदायूं में 57.50% आंवला में 59.18%, बरेली में 61.49% और पीलीभीत में 64.60% वोट पड़े हैं.

बीजेपी सरकार आने के बाद से देश में बढ़ी गरीबी और बेरोजगारी: मायावती

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि केन्द्र में बीजेपी सरकार आने के बाद से देश में गरीबी और बेरोजगारी बढ़ी है . मायावती ने कहा, ''बीजेपी की केंद्र में सरकार आने के बाद से देश में गरीबी और बेरोजगारी बढ़ी है. वहीं कांग्रेस भी अपनें वादों पर खरी नहीं उतरी.''

उन्होंने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार ने बिना तैयारी के नोटबंदी और जीएसटी लागू किया, जिससे देश में गरीबी और बेरोजगारी बढ़ गई और देश की अर्थव्यवस्था पर इसका काफी बुरा असर पड़ा. बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि कांग्रेस की सरकार के समय बोफोर्स और बीजेपी की केंद्र सरकार के समय राफेल का मामला चर्चा में है.

चुनाव नतीजों में दिखेगा मोदी सरकार के प्रति जनता की नाराजगी का असर: प्रियंका

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि देश की जनता नरेन्द्र मोदी सरकार से नाराज है और इसका असर लोकसभा चुनाव परिणामों में दिखेगा.

प्रियंका ने अमेठी में कहा ‘’मैं जहां जहां भी जाती हूं, वहां लोग मोदी सरकार से नाराज नजर आते हैं. जितने भी गरीब, किसान, नौजवान और हर वह तबका जिसे इस सरकार ने दुख दिए हैं, उसने अपना मन दिखा दिया है.’’

प्रियंका ने कहा कि जनता ने यह दिखा दिया है कि उनका मन क्या कह रहा है और इसका असर इन चुनाव के नतीजों में दिखेगा. प्रियंका ने दोहराया कि वाराणसी लोकसभा सीट पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने को लेकर वह पार्टी के फैसले को मानेंगी. कांग्रेस महासचिव से जब सवाल किया गया कि क्या वह वाराणसी में मोदी के खिलाफ चुनाव लडेंगी, तो उन्होंने कहा, ''मैंने लगातार यह बात कही है कि मैं वही करूंगी, जो पार्टी मुझसे करने के लिए कहेगी .''

(इनपुट भाषा, IANS से)

ये भी पढ़ें : चुनाव में जोश कहां है? बीजेपी को इसका नुकसान होगा?

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our राज्य section for more stories.

    वीडियो