ADVERTISEMENT

भोपाल: धन कुबेर निकला सरकारी 'बाबू', EOW की छापेमारी में मिले 85 लाख कैश

छापेमारी के दौरान क्लर्क ने फिनाइल पी लिया. जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया.

Updated
राज्य
2 min read
भोपाल: धन कुबेर निकला सरकारी 'बाबू', EOW की छापेमारी में मिले 85 लाख कैश
i

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) में बुधवार को इकोनॉमिक ऑफेंस विंग (EOW) ने बैरागढ़ में चिकित्सा शिक्षा विभाग के एक क्लर्क के घर पर छापा मारा. इस दौरान क्लर्क के घर से करीब 85 लाख कैश मिले. नोटों का बंडल देखकर EOW के अधिकारी भी चौंक गए. कैश गिनने के लिए मशीन मंगानी पड़ी.

ADVERTISEMENT

वहीं छापेमारी के दौरान क्लर्क ने फिनाइल पी लिया. जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया. जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है. इस मामले में सियासत भी शुरू हो गई है. कांग्रेस ने इशारों-इशारों में बीजेपी विधायक पर संरक्षण का आरोप भी लगाया है.

4 हजार सैलरी से शुरू की थी नौकरी

मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग में क्लर्क के पद पर पदस्थ हीरो केसवानी के खिलाफ EOW को आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिली थी. जिसके बाद कोर्ट से सर्च की अनुमति लेकर EOW ने बुधवार सुबह केसवानी के बैरागढ़ स्थित घर पर छापेमारी की. सुबह से शुरू हुई कार्रवाई देर रात तक चली.

जानकारी के मुताबिक 50 हजार रुपए प्रतिमाह वेतन प्राप्त करने वाले क्लर्क के घर से 85 लाख नगद बरामद हुए हैं. भारी मात्रा में कैश मिलने के बाद नोट गिनने के लिए मशीन मंगानी पड़ी. इसके साथ ही EOW ने केसवानी के घर से करोड़ों की संपत्ती के कागजात और ज्वेलरी भी बरामद किए हैं.

बताया जा रहा है कि जब केसवानी ने नौकरी जॉइन थी तब उसको 4 हजार रुपए प्रतिमाह मिलते थे, बाद में सैलरी बढ़कर 50 हजार तक पहुंच गई. लेकिन सैलरी के मुताबिक केसवानी की संपत्ति कई गुना पाई गई है.

कांग्रेस ने बीजेपी विधायक पर लगाए गंभीर आरोप

मध्य प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष और पीसीसी चीफ कमलनाथ के मीडिया कोऑर्डिनेटर नरेंद्र सलूजा ने हीरो केसवानी के घर पर EOW का छापा पड़ने के बाद एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने हीरो केसवानी और भोपाल के हुजूर विधानसभा से बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा के साथ वाले फोटो शेयर की है. साथ में एक फोटो हीरो केसवानी के घर से बरामद नोटों से भरे सूटकेस का भी है.

सलूजा ने ट्वीट कर लिखा, "मध्यप्रदेश के भोपाल के बैरागढ़ इलाके में चिकित्सा शिक्षा विभाग में पदस्थ क्लर्क के घर से मिली करोड़ों रुपये की काली कमाई. किसका संरक्षण, कौन-कौन काली कमाई में हिस्सेदार, उनकी भी जांच हो."

वही एमपी कांग्रेस के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से भी ट्वीट कर बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा पर निशाना साधते हुए सीएम से असली दोषियों पर कार्यवाई की मांग की गई है. एमपी कांग्रेस के हैंडल से ट्वीट किया गया, "शिव'राज में करोड़पति क्लर्क: स्वास्थ्य विभाग में क्लर्क हीरो केसवानी के घर में पड़े छापे में करोड़ों रुपये पकड़ाए, बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा के साथ तस्वीरें सामने आईं. शिवराज जी, ये पैसा किसका है? असली दोषियों पर ED कब कार्रवाई करेगी? ये है बीजेपी के 18 सालों का हासिल."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, news और states के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  madhya pradesh   Bhopal 

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×