ADVERTISEMENT

काफी रियल: हिंदुस्तान के दिल मध्य प्रदेश में दिख रही 'कट्टरता'

गंगा-जमुनी तहजीब वाले भारत में आज कल 'भीड़ के न्याय' से लेकर 'सांप्रदायिक नारों की गूंज' सुनाई दे रही है.

Published
भारत
1 min read
<div class="paragraphs"><p>भारत में बढ़ती सांप्रदायिक घटनाएं</p></div>
i

एक वक्त अपनी गंगा-जमुनी तहजीब के लिए जाने जाने वाले भारत में आज कल 'भीड़ के न्याय' से लेकर 'सांप्रदायिक नारों की गूंज' सुनाई दे रही है. दिल्ली में जंतर-मंतर पर मुस्लिमों के खिलाफ नारे लगाए गए, नीमच में एक आदिवासी शख्स को ट्रक से बांधकर घसीटा गया.

ADVERTISEMENT

मध्य प्रदेश में बढ़ी हिंसक घटनाएं

  • 28 अगस्त को नीमच में एक आदिवासी युवक कन्हैया लाल को छोटे पिकअप ट्रक से बांधकर घसीटा गया, जिसके बाद उसकी मौत हो गई. बाहुबलियों को शक था कि उसने चोरी की है.

  • 28 अगस्त को उज्जैन के मेहिदपुर में एक कबाड़ी वाले अब्दुल रशीद से कुछ लोगों ने जबरदस्ती ''जय श्री राम'' के नारे लगवाए.

  • 26 अगस्त को देवास के हाटपिपलिया में टोस्ट और जीरा बेंचने वाले 45 वर्षीय जाहिद खान की दो युवकों ने बेरहमी से पिटाई कर दी. युवकों ने जाहिद से आधार कार्ड दिखाने के लिए कहा था.

  • 22 अगस्त को रक्षाबंधन के दिन इंदौर में हिंदू इलाके में चूड़ी बेचने गए मुस्लिम शख्स की पिटाई हुई.

काफी रियल: हिंदुस्तान के दिल मध्य प्रदेश में दिख रही 'कट्टरता'

वहीं, कुछ दिनों पहले दिल्ली के जंतर-मंतर पर मुस्लिमों के विरोध में नारे लगाए गए थे. हरियाली तीज के मौके पर उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में, क्रांति सेना के लोग शहर में घूम-घूमकर चेकिंग करने लगे कि मेहंदी लगाने वाला शख्स कहीं मुस्लिम तो नहीं हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT