ADVERTISEMENT

प्रियंका गांधी का आरोप-UP सरकार छिपा रही है कोरोना से जुड़े आंकड़े

यूपी में कोरोना वायरस का कहर जारी है. विपक्षी पार्टियां इस हालत के लिए राज्य सरकार को भी जिम्मेदार बता रही हैं.

Updated
राज्य
2 min read

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर जारी है. विपक्षी पार्टियां इस हालत के लिए राज्य सरकार को भी जिम्मेदार बता रही हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बुधवार को पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए कहा है कि यूपी सरकार न केवल आंकड़ों के साथ बल्कि लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रही है.

प्रियंका गांधी का आरोप है कि राज्य में हालात विस्फोटक होने के कगार पर हैं लेकिन यूपी सरकार लगातार आंकड़े छिपा रही है.

अगर यूपी सरकार कोरोना महामारी के पहले दिन से ही सचेत रही होती तो शायद आज इस तरह के दिन नहीं देखने पड़ते. इस महामारी में पहले ही दिन से बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था करने के बजाय सरकार ने संक्रमण के आंकड़े और मौतों की संख्या को लगातार कवर-अप किया है.
प्रियंका गांधी, महासचिव कांग्रेस
ADVERTISEMENT

यूपी की जनता पर हो रहा दोतरफा वार

प्रियंका गांधी ने पार्टी नेताओं से बातचीत में आरोप लगाया कि राज्य सरकार की तरफ से इस महामारी को काबू करने के लिए कोई व्यवस्था और प्लानिंग ही नहीं दिख रही है, इसकी बजाय ऐसा लग रहा है कि यूपी की जनता पर दोतरफा वार हो रहा है.

एक तरफ से कोरोना और दूसरी तरफ से योगी सरकार की नाकाम, असंवेदनशील और ग़ैर ज़िम्मेदार व्यवस्था. यह सारी स्थितियां सरकार और मुख्यमंत्री जी की अदूरदर्शिता और नाकारापन के कारण भी हुईं हैं. फिर भी उन्हें अभी भी केवल अपनी छवि की चिंता है.
प्रियंका गांधी, महासचिव, कांग्रेस

प्रियंका गांधी ने दावा किया कि 5 से 11 अप्रैल के बीच पूरे देश में कोरोना के 70% मामले बढ़े हैं तो उत्तर प्रदेश में इस दौरान कोरोना मामलों में 281% की वृद्धि हुई. यूपी की 24 करोड़ आबादी में से अब तक एक करोड़ लोगों को भी टीके नहीं लग पाएहैं.

आज स्थिति यह हो गयी गई कि यूपी की राजधानी लखनऊ में लाशों की कतार लग गई हैं. शवगृदाहगृहों पर लकड़ियों की कमी हो गयी है. प्रदेश का आम आदमी अपने परिजन का अंतिम संस्कार भी सम्मानित तरीके से करने में लाचार है. सुबह से देर रात तक शवगृहों और कब्रिस्तानों में लोग अपने मृत प्रियजनों का अंतिम संस्कार कर रहे हैं.
प्रियंका गांधी, महासचिव कांग्रेस

बता दें कि यूपी में 14 अप्रैल को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 20,510 नए मामले आए सामने. राज्य में एक्टिव इंफेक्शन केस 1,11,835 हैं. कांग्रेस की तरफ से जांच में देरी होने, किट न होने और अस्पतालों में बदतर स्थिति होने की बात की गई है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT