ADVERTISEMENT

UP में जल्द ही लाया जाएगा ‘लव जिहाद’ के खिलाफ सख्त कानून:गृह विभाग

इससे पहले UP के CM ने कहा था कि वह ‘लव जिहाद’ को सख्ती से रोकने के लिए प्रभावी कानून बनाएंगे

Updated
राज्य
2 min read
सांकेतिक तस्वीर
i

उत्तर प्रदेश में जल्द ही 'लव जिहाद' के खिलाफ एक सख्त कानून लाया जाएगा. न्यूज एजेंसी एएनआई ने प्रदेश के गृह विभाग के हवाले से यह जानकारी दी है. गृह विभाग ने यह भी बताया है कि उसने कानून विभाग को इससे संबंधित एक प्रस्ताव भेजा है.

ADVERTISEMENT
इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि वह ‘लव जिहाद’ को सख्ती से रोकने के लिए प्रभावी कानून बनाएंगे. उन्होंने चेतावनी दी थी कि जो लोग बहू-बेटियों की इज्जत से खिलवाड़ करते हैं, वे अगर सुधरे नहीं तो ‘राम नाम सत्य है’ की उनकी अंतिम यात्रा निकलने वाली है.

देवरिया और जौनपुर में जनसभाओं को संबोधित करते हुए योगी ने कहा था कि ‘लव जिहाद’ में शामिल लोगों के पोस्टर चौराहों पर लगाए जाएंगे.

बता दें कि उत्तर प्रदेश के अलावा कई दूसरे राज्यों में भी ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाने की बात कही जा रही है, जहां बीजेपी सत्ता में है.

कुछ दिन पहले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा था कि केंद्र और राज्य सरकार 'लव जिहाद' को लेकर कानूनी प्रावधानों पर विचार कर रही हैं. हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज भी कह चुके हैं, ‘‘हरियाणा में लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाने पर विचार किया जा रहा है.’’

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने हाल ही में ट्वीट कर कहा था, ''सरकार प्रदेश में धर्मांतरण के लिए विवाह पर रोक लगाने वाला विधेयक विधानसभा के अगले सत्र में लाने की तैयारी कर रही है. इसे गैर जमानती अपराध घोषित कर मुख्य आरोपी और इसमें सहभागियों को 5 साल की कठोर सजा का प्रावधान किया जा रहा है.''

मिश्रा ने बिल को लेकर बताया था, ‘’हम मध्य प्रदेश धर्म स्वातंत्र्य विधेयक 2020 को विधानसभा में लाने की तैयारी कर रहे हैं. इसमें हम तय कर रहे हैं कि बहकावे के साथ या बलपूर्वक शादी और धर्मांतरण कराने पर 5 साल का कठोर कारावास होगा.’’

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT