UP में दारोगा की पिटाई करते सिपाही का ये वीडियो एक साल पुराना है

सीतापुर पुलिस ने भी ट्वीट करके बताया है कि ये वीडियो एक साल पुराना है

Published
ये वीडियो एक साल पुराना है
i

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक सिपाही दारोगा को डंडे मारता हुआ नजर आ रहा है. सोशल मीडिया पर इस वीडियो को हाल का बताकर शेयर किया जा रहा है.

हालांकि, पड़ताल में हमने पाया कि ये वीडियो यूपी के सीतापुर का है और एक साल पुराना है. सीतापुर पुलिस ने भी ट्वीट करके इस वीडियो को एक साल पुराना बताया है.

दावा

सोशल मीडिया पर कई यूजर्स इस वीडियो को यूपी पुलिस और सीएम योगी आदित्यनाथ को टैग कर शेयर कर रहे हैं. HN24 News नाम के फेसबुक पेज पर ये वीडियो लाइव चलाया जा रहा है. वीडियो शेयर कर कैप्शन में लिखा गया है.. ‘’आज शायद इनको कोई मिला नहीं तो आपस में ही.. ‘’.

स्टोरी लिखते समय तक इसे 8 हजार से भी ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं और 64 बार शेयर किया जा चुका है.

पोस्ट का आ4काइव देखने के लिए <a href="https://archive.st/archive/2021/4/www.facebook.com/at0o/">यहां</a> क्लिक करें
पोस्ट का आ4काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

इसके अलावा, कई सोशल मीडिया यूजर्स इस वीडियो को फेसबुक और ट्विटर दोनों जगह शेयर कर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और यूपी पुलिस को टैग कर रहे हैं. ऐसे पोस्ट के आर्काइव आप यहां, यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

पड़ताल में हमने क्या पाया

हमने गूगल पर ‘constable beating inspector’ कीवर्ड सर्च करके देखा. हमें Times of India का 21 अप्रैल 2020 को पब्लिश एक आर्टिकल मिला, जिसका टाइटल है, “'यूपी: हेड कॉन्स्टेबल ने सीनियर सब-इंस्पेक्टर को डंडों से मारा, सस्पेंड''. इस आर्टिकल में वायरल वीडियो का इस्तेमाल किया गया था.

ये आर्टिकल 21 अप्रैल 2020 को पब्लिश हुआ था.
ये आर्टिकल 21 अप्रैल 2020 को पब्लिश हुआ था.
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/TOI)

आर्टिकल में घटना से संबंधित जानकारी देते हुए लिखा गया है कि सीतापुर जिले में हेड कॉन्स्टेबल के सब इंस्पेक्टर को डंडों से पीटने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद, कॉन्स्टेबल को सस्पेंड किया गया है और एफआईआर दर्ज कर ली गई है.

आर्टिकल में सीतापुर के एसपी एलआर कुमार को कोट करते हुए लिखा गया है कि ''सीनियर सब इंस्पेक्टर रमेश ने लॉकडाउन के दौरान उचित जांच नहीं करने के लिए हेड कांस्टेबल रामआसरे को डांटा था. इस पर वो नाराज हो गया और उसने अपने सीनियर पर हमला कर दिया.''

हमें इस घटना पर 21 अप्रैल 2020 को पब्लिश News18 Hindi का भी एक आर्टिकल मिला. इसमें भी वही जानकारी थी जो ऊपर बताई जा चुकी है.

इसके अलावा, यूट्यूब पर ‘head constable beating sub inspector’ कीवर्ड सर्च करने पर, हमें The Quint के यूट्यूब चैनल पर भी यही वीडियो मिला, जिसे 23 अप्रैल 2020 को अपलोड किया गया था.

वीडियो की हेडलाइन है, ''यूपी के सीतापुर में सब इंस्पेक्टर पर हमला करने के लिए हेड कॉन्स्टेबल को किया गया सस्पेंड''

वीडियो के डिस्क्रिप्शन में बताया गया है कि सीतापुर के आरएमपी चौराहे पर हेड कॉन्स्टेबल और सब इंस्पेक्टर के बीच मारपीट हुई और हेड कॉन्स्टेबल के खिलाफ धार 323, 353, 504 और 51 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.

ट्विटर पर एक यूजर को जवाब में सीतापुर पुलिस ने ट्वीट करते हुए बताया है कि ये वीडियो एक साल पुराना है और आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ थाना कोतवाली नगर में संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर, विवेचना के बाद आरोप पत्र कोर्ट को भेजा जा चुका है. पुलिस ने ये भी बताया कि आरोपी पर विभागीय कार्रवाई भी की जा चुकी है.

सीतापुर पुलिस ने ट्वीट कर बताई वीडियो की सच्चाई
सीतापुर पुलिस ने ट्वीट कर बताई वीडियो की सच्चाई
(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)
क्विंट की वेबकूफ टीम से बातचीत में सीतापुर कोतवाली सीओ के स्टाफ ने भी पुष्टि करते हुए बताया कि ये मामला पिछले साल का है और इस पर एक्शन लिया जा चुका है.

मतलब साफ है कि यूपी के सीतापुर में पिछले साल हेड कॉन्स्टेबल ने अपने सीनियर इंस्पेक्टर पर हमला किया था. इस वीडियो को अब सोशल मीडिया पर हाल का बताकर शेयर किया जा रहा है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!