ADVERTISEMENT

चीन से भारत- 'जिन्होंने ट्रैवल शर्तें पूरी की,उन्हें वीजा जारी हो'

वीजा जारी होने से जो लोग अपनी पढ़ाई या नौकरी चीन में कर रहे हैं वो फिर से अपने काम पर वापस जा सकेंगे

Published
चीन से भारत- 'जिन्होंने ट्रैवल शर्तें पूरी की,उन्हें वीजा जारी हो'

10 जून को भारत सरकार ने चीनी विदेश मंत्रालय से कहा है कि उन भारतीयों के चीनी वीजा जारी किया जाए, जो ट्रैवल करने की चीनी शर्तों को पूरा करते हैं. इन शर्तों में चाइनीज मेड वैक्सीन लगवाने का नियम भी शामिल है. वीजा जारी होने से जो लोग अपनी पढ़ाई या नौकरी चीन में कर रहे हैं वो फिर से अपने काम पर वापस जा सकेंगे.

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा- 'भारत सरकार की कोशिश है कि उन भारतीय नागरिकों के हितों की रक्षा की जाए, जो विदेशों में काम करते हैं, लेकिन कोविड संकट, लॉकडाउन, ट्रैवल बैन की वजह से भारत में फंस गए हैं.'

विदेश में काम करने वाले भारतीयों के लिए बात कर रही सरकार

विदेश मंत्रालय का कहना है कि भारतीयों को जो भी दिक्कतें आ रही हैं, उन्हें लेकर उस देश की सरकार से बात की जा रही है.

चीन के संबंध में बात करते हुए प्रवक्ता बागची ने कहा- बीते साल नवंबर के बाद से भारतीय पढ़ाई या काम करने के लिए वापस नहीं जा पा रहे हैं, वहीं चीनी लोग बिना रोकटोक भारत में ट्रैवल कर सकते हैं.

ADVERTISEMENT
प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा- हम सब ये जानते हैं कि वैक्सीन लेने के बाद कई सारे भारतीयों ने चीनी वीजा के लिए आवेदन किया है, लेकिन अब तक उनको वीजा मिलना बाकी है. चीनी पक्ष ने जो भी मांग रखी है, भारतीय नागरिक उसे पूरा कर रहे हैं. हम उम्मीद करते हैं कि चीनी दूतावास जल्द ही भारतीयों के लिए चीनी वीजा जारी करेगा.

भारतीय अधिकारी अपने चीनी समकक्षों के साथ मिलकर ट्रैवल के जल्दी शुरू कराए जाने की कोशिश कर रहे हैं. खासतौर से उन लोगों के लिए जो चीन में रहकर काम करते हैं.

चीन में करीब 55,000 भारतीय नागरिक

आधिकारिक डेटा के मुताबिक चीन में करीब 55,000 भारतीय नागरिक रहते हैं. इसमें 20,000 से ज्यादा भारतीय छात्र शामिल हैं. कई सारे छात्र और नौकरीपेशा लोग कोरोना वायरस संकट को देखते हुए चीन से वापस आ गए थे.

वहीं दूसरे देशों के मामले में भी भारतीय विदेश मंत्रालय के अधिकारी भारतीय नागरिकों को मदद करने की कोशिश कर रहे हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT