ADVERTISEMENT

Lt Gen Asim Munir: बाजवा का करीबी,8 महीने ISI की कमान- PAK आर्मी को मिला नया चीफ

Pakistan New Army Chief लेफ्टिनेंट जनरल आसिम मुनीर की नियुक्ति पर राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने मुहर लगाया

Published
Lt Gen Asim Munir: बाजवा का करीबी,8 महीने ISI की कमान- PAK आर्मी को मिला नया चीफ
i

Pakistan New Army Chief Lt Gen Asim Munir: पाकिस्तान में लेफ्टिनेंट जनरल आसिम मुनीर देश के नए सेनाध्यक्ष (Army Chief) के रूप में जनरल कमर जावेद बाजवा की जगह ले ली है. इसके अलावा पाकिस्तान के सूचना मंत्री मरियम औरंगजेब ने कहा कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने अपने संवैधानिक अधिकार का इस्तेमाल करते हुए लेफ्टिनेंट जनरल साहिर शमशाद मिर्जा को ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी (CJCSC) का अध्यक्ष नियुक्त किया है. पाकिस्तान के अखबार डॉन के अनुसार नियुक्तिों की इन फाइलों पर राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने दस्तखत कर दिए हैं.

ADVERTISEMENT

इससे पहले प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ से लेफ्टिनेंट जनरल आसिम मुनीर की नियुक्ति का प्रस्ताव मिलने के बाद राष्ट्रपति आरिफ अल्वी पीटीआई प्रमुख और देश के पूर्व पीएम इमरान खान से मिलने लाहौर में उनके जमान पार्क आवास पहुंचे थे.

ट्विटर पर PTI के आधिकारिक अकाउंट पर इमरान खान के हवाले से कहा गया है, " मैं और पाकिस्तान के राष्ट्रपति संविधान और कानूनों के अनुसार कार्य करेंगे"

Lieutenant General Asim Munir: पाकिस्तान के नए सेना प्रमुख कौन हैं?

लेफ्टिनेंट जनरल आसिम मुनीर को सितंबर 2018 में थ्री स्टार जनरल के पद पर प्रोमोट किया गया था, और दो महीने बाद उन्होंने यह कार्यभार संभाला. इस तरह, लेफ्टिनेंट जनरल के रूप में उनका चार साल का कार्यकाल 27 नवंबर को समाप्त हो रहा है.

लेफ्टिनेंट जनरल मुनीर ने मंगला में स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग स्कूल प्रोग्राम के माध्यम से सेना में प्रवेश किया और उन्हें फ्रंटियर फोर्स रेजिमेंट में नियुक्त किया गया था. वह जनरल बाजवा के तब से करीबी सहयोगी रहे हैं, और उन्होंने उस समय कमांडर एक्स कोर रहे बाजवा के अंडर एक ब्रिगेडियर के रूप में फोर्स कमांड उत्तरी क्षेत्रों में सैनिकों की कमान संभाली थी.

लेफ्टिनेंट जनरल मुनीर को बाद में 2017 की शुरुआत में सैन्य खुफिया महानिदेशक (Military Intelligence director general) नियुक्त किया गया था, और अगले साल 2018 के अक्टूबर में वे इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस यानी ISI के प्रमुख बन गए.

हालांकि वे ISI प्रमुख के पद पर सबसे कम समय तक रहे- केवल 8 महीने. तत्कालीन पीएम इमरान खान ने उन्हें हटाकर लेफ्टिनेंट जनरल फैज हामिद को ISI प्रमुख बना दिया. क्वार्टर मास्टर जनरल के रूप में जनरल हेडक्वाटर में ट्रांसफर होने से पहले, उन्हें गुजरांवाला कोर कमांडर के रूप में तैनात किया गया था, जिस पद पर उन्होंने दो साल तक काम किया था.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Speaking truth to power requires allies like you.
Q-इनसाइडर बनें
450

500 10% off

1500

1800 16% off

4000

5000 20% off

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
Check Insider Benefits
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×