ADVERTISEMENT

दक्षिण एशिया में चीन से मुकाबले के लिए तैयार अमेरिका,ASEAN देशों को $150m की मदद

एशिया में चीन के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए बाइडेन दिखाना चाहते हैं कि अमेरिका दक्षिण एशियाई के साथ खड़ा है.

Published
दक्षिण एशिया में चीन से मुकाबले के लिए तैयार अमेरिका,ASEAN देशों को $150m की मदद
i

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) वॉशिंग्टन में दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के संगठन (ASEAN) की मेजबानी कर रहे हैं. इस शिखर सम्मेलन के पहले दिन, बाइडेन ने बुनियादी ढांचे, सुरक्षा और महामारी के खिलाफ कोशिशों पर 150 मिलियन डॉलर खर्च करने की प्रतिज्ञा की.

एशिया में चीन के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए बाइडेन दिखाना चाहते हैं कि अमेरिका दक्षिण एशियाई के साथ खड़ा है.
ADVERTISEMENT

एशिया में चीन के बढ़ते प्रभाव का मुकाबला

अल जजीरा की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक अधिकारी ने कहा कि क्षेत्र की पावर सप्लाई के कार्बन फुटप्रिंट को कम करने के लिए $40 मिलियन डॉलर, समुद्री सुरक्षा में 60 मिलियन डॉलर और, कोविड और भविष्य की महामारियों से निपटने के लिए स्वास्थ्य में 15 मिलियन डॉलर का निवेश शामिल हैं. अन्य फंडिंग का उद्देश्य देशों को डिजिटल इकनॉमी और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के लिए कानूनी ढांचे को विकसित करने में मदद करना होगा.

अमेरिकी कोस्ट गार्ड स्थानीय नौकाओं की मदद के लिए क्षेत्र में एक जहाज भी तैनात करेगा. अमेरिका समेत इस क्षेत्र के कई देश चीन पर अवैध मछली पकड़ने का आरोप लगा चुके हैं.

चीन ने नवंबर में ASEAN देशों – ब्रुनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, सिंगापुर, थाईलैंड, मलेशिया, वियतनाम, म्यांमार और फिलीपींस – को कोविड से लड़ने और आर्थिक सुधार करने के लिए तीन सालों में मदद के लिए 1.5 बिलियन डॉलर देने की घोषणा की थी.

अमेरिकी प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सम्मेलन पर कहा, "हम (आसियान) देशों को अमेरिका और चीन के बीच चुनने के लिए नहीं कह रहे हैं. हालांकि, हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि अमेरिका मजबूत संबंध चाहता है."

ADVERTISEMENT

दक्षिण एशिया के लिए बाइडेन का प्लान

रिपोर्ट्स के मुताबिक, दक्षिण एशिया के लिए बाइडेन कई प्लान पर काम कर रहे हैं, जिसमें इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट प्रोजेक्ट Build Back Better World और इंडो-पैसिफिक इकनॉमिक फ्रेमवर्क (IPEF) शामिल हैं, लेकिन इनमें से कुछ भी अभी फाइनल नहीं है और कहा जा रहा है कि दो दिन के इस शिखर सम्मेलन में इसकी घोषणा नहीं की जाएगी.

ये पहली बार है जब ASEAN के नेता व्हाइट हाउस में एक समूह के रूप में इकट्ठे हुए हैं, और 2016 के बाद से अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा उनकी पहली बैठक आयोजित की गई है.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, IPEF को अगले हफ्ते जापान और दक्षिण कोरिया की बाइडेन की यात्रा पर लॉन्च किया जाना है. लेकिन एक्सपर्ट्स का कहना है कि 10 ASEAN देशों में से केवल दो - सिंगापुर और फिलीपींस - के IPEF के तहत समझौते के लिए साइन अप करने के शुरुआती ग्रुप में शामिल होने की उम्मीद है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×