US में सरकारी कर्मचारियों के सामने वेतन का संकट, ट्रंप करेंगे बात
अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प
अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (फोटो: रॉयटर्स)

US में सरकारी कर्मचारियों के सामने वेतन का संकट, ट्रंप करेंगे बात

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के अपने रुख पर सख्ती से कायम हैं. ट्रंप इस मामले में अपने पक्ष और तर्कों को राष्ट्र के सामने रखेंगे. सरकार के आंशिक रूप से ठप पड़े कामकाज को फिर से शुरू करने से पहले वे इस समस्‍या का हल चाहते हैं.

खर्चों के लिए रकम का अनुमोदन न मिलने से लगातार तीन सप्ताह से सरकारी कामकाज ठप पड़ा है. इसकी वजह से हजारों संघीय कर्मचारियों को शुक्रवार को भी अपनी तनख्वाह नहीं मिली. राष्ट्रपति के तौर पर ट्रंप अपने ओवल ऑफिस से मंगलवार को इस मसले पर राष्ट्र को संबोधित करेंगे.

डोनाल्ड ट्रंप मेक्सिको सीमा पर दीवार की जरूरत पर बल देने के लिए उस इलाके का दौरा भी करने वाले हैं. ट्रम्प का कहना है कि अवैध आव्रजन रोकने के दीर्घकालिक समाधान के लिए यह दीवार बनाना जरूरी है.

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने ट्वीट कर कहा कि वह इस दौरे का उपयोग राष्ट्रीय सुरक्षा और मानवीय संकट से निपटने के काम में लगे लोगों से मिलने के लिए करेंगे.

इसके अलावा ट्रंप प्रशासन राष्ट्रीय आपातकाल घोषित करने के बारे में भी विचार कर रहा है, ताकि राष्ट्रपति ट्रंप को इस दीवार परियोजना पर संसद की अनुमति के बिना काम करने की छूट मिल जाए.

ट्रंप प्रशासन ने मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लिए 5.6 अरब डॉलर की मांग की है, लेकिन संसद से इसकी मंजूरी नहीं मिल पा रही है.

ट्रंप टीवी पर संबोधन और सीमावर्ती क्षेत्र के दौरे की घोषणा कर विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी और सत्तारूढ़ रिपब्लिकन सांसदों पर सरकारी कामकाज फिर से शुरू करने का दबाव बना रहे हैं.

डोनाल्ड ट्रंप ठप पड़े कामकाज को जल्द से जल्द शुरू कराना चाहती है
डोनाल्ड ट्रंप ठप पड़े कामकाज को जल्द से जल्द शुरू कराना चाहती है
(फोटो: AP)

वहीं इस बंद के चलते टैक्‍स रिफंड में देरी की आशंका को दूर करते हुए ट्रंप प्रशासन के एक अधिकारी ने सोमवार को कहा कि टैक्‍स देने वालों का पैसा उन्हें समय पर ही मिलेगा. रिफंड संबंधी यह छूट पिछली सरकारों में इस तरह की स्थिति में अपनाए गए चलन से अलग होगा और इसकी वैधता को चुनौती दी जा सकती है.

व्हाइट हाउस बजट ऑफिस के कार्यवाहक निदेशक रसल वाउट ने कहा कि टैक्‍स रिफंड के लिए धन खर्च करने की एक मंजूरी पहले ही मिली हुई है, उसकी कोई सीमा तय नहीं है. इसके आधार पर रिफंड का भुगतान सामान्य रूप से होता रहेगा.

(इनपुट: भाषा)

ये भी पढ़ें : क्‍या अशोक गहलोत ने कहा- UPA का अंत निश्चित, NDA सत्ता में आएगा?

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our दुनिया section for more stories.

    वीडियो