View Fullscreen
1/14

नए साल पर दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन करती महिलाएं

(फोटो: मुकुल भंडारी/क्विंट हिंदी)

आंदोलन के अनूठे अंदाज के साथ जामिया ने किया 2020 का आगाज।15 तस्वीर

कड़कड़ाती ठंड में हजारों लोगों ने राष्ट्रगान गा कर मनाया नए साल का जश्न

Published
तस्वीरें
2 min read

दिल्ली के शाहीन बाग में पिछले दो हफ्तों से नागरिकता कानून और NRC के खिलाफ महिलाएं विरोध प्रदर्शन कर रही हैं. 31 दिसंबर की रात, हजारों लोग प्रदर्शन कर रहे लोगों के साथ नया साल मनाने पहुंचे. इन लोगों ने दिल्ली की कड़कड़ाती ठंड में रात के 12 बजे 'जन गण मन' गा कर और 'इंकलाब जिंदाबाद' के नारे लगाकर नए साल का जश्न मनाया.

15 दिसंबर को जामिया मिलिया इस्लामिया में छात्रों पर हुई हिंसा के बाद शुरू हुए इस आंदोलन में कई महिलाएं लगातार 24 घंटे शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन कर रही हैं.

नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और प्रस्तावित राष्ट्रीय रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स (NRC) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने के लिए लोग पोस्टर, झंडे, मोमबत्ती के साथ पहुंचे. इस मौके पर स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव और कार्यकर्ता हर्ष मंदर भी मौजूद हुए.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!