कलिको पुल की पहली पत्नी के पास पुख्ता सबूत होने का दावा (फोटो: हर्ष शाहनी/द क्विंट)
| 2 मिनट में पढ़िए

कलिखो पुल से ली रिश्वत की ‘रसीदों’ से आरोपी जजों पर कसेगा शिकंजा

अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कलिखो पुल के करीबी सूत्रों के मुताबिक इस बात के सबूत हैं जो ये साबित कर सकते हैं कि देश के दो वरिष्ठ जजों ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने के मुद्दे पर करोड़ों की घूस ली.

द क्विंट से एक्सक्लूसिव बातचीत में कलिको पुल की पहली पत्नी दंगविम्साई पुल ने सरकार से चारों आरोपी जजों के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज करने की मांग की. इन चार जजों में दो अभी सेवा में हैं और दो रिटायर हो चुके हैं.

दंगविम्साई पुल ने ये भी कहा कि जो दो जज इस वक्त सेवा में हैं उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए ताकि इस मामले की निष्पक्षता से जांच हो. इसे लेकर उन्होंने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया को अर्जी दी है.

मामले में चुप है सरकार

द क्विंट के खुलासे और कलिको पुल की पहली पत्नी दंगविम्साई पुल की दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस के बावजूद भी केंद्र सरकार ने चुप्पी साधी हुई है.

पुल के करीबियों के पास जो सबूत हैं वो रसीद के रूप में हैं जिसमें उन लोगों के हस्ताक्षर हैं जिन्होंने आरोपी जजों की तरफ से रिश्वत ली थी. इन रसीदों को देखकर पता चलता है कि 60 करोड़ रुपये एजेंट को दे दिए गए थे और बचे हुए 8 करोड़ रुपये अरुणाचल प्रदेश के एक पूर्व कांग्रेस नेता ने लिए. 

इस रसीद में 15 जुलाई 2016 की तारीख है जो पुल की आत्महत्या के करीब एक महीना पहले की है.

ये भी पढ़ें: कलिखो पुल के सुसाइड नोट में दावा, लॉ अफसरों ने ली 64 करोड़ की घूस

दंगविम्साई पुल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मीडिया के सामने सुसाइड नोट को दिखाया. ये दावा भी किया कि इससे जांच एजेंसियों को आरोपियों को पकड़ने में काफी मदद मिलेगी.