लॉकडाउन पर फेमस बॉक्सर और DSP विकास आपसे क्या कह रहे हैं,सुनिए

विकास ने इस साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर लिया था

Updated09 Apr 2020, 05:18 PM IST
अन्य खेल
2 min read
“पुलिस के तौर पर, हम यहां आपकी मदद करने के लिए हैं... आपकी सेवा करने के लिए हैं. प्लीज ये न सोचें की हम आपके लिए कुछ गलत कर रहे हैं.”

देश में पुलिसवालों पर हमले की खबर आने के बाद, भारतीय बॉक्सर और हरियाणा पुलिस में डीएसपी विकास कृष्णन ने लोगों से ये अपील की. कृष्णन ने कहा कि सरकार ने जो भी फैसला लिया है, वो सोच-समझकर लिया होगा और पुलिस बस उसी का पालन कर रही है.

विकास कृष्णन ने कहा, "अगर पुलिस कुछ काम कर रही है, तो उन्हें ऊपर से निर्देश आए हैं. आप उन चीजों को हल्के में मत लीजिए. और पुलिस के ऊपर हमला करना, बहुत ही शर्मनाक है. इसकी जितनी निंदा की जाए उतना कम है. जब कोई चोरी या मर्डर होता है, तो हम आपकी मदद, आपकी सुरक्षा के लिए मौजूद रहते हैं. तो आपको पुलिस की मदद करनी चाहिए, न कि उन्हें नुकसान पहुंचाना चाहिए."

विकास ने टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर लिया था
विकास ने टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर लिया था
(फोटो: IOA)

विकास ने मार्च में टोक्यो ओलंपिक्स 2020 के लिए क्वालीफाई किया था और वो भारत लौट रहे थे, जब भारत सरकार ने लॉकडाउन और ट्रैवल बैन लागू करना शुरू किया था. कृष्णन अब अपने घर भिवानी में हैं, जहां दो पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. उन्होंने सभी से घरों में रहने की अपील की है.

“हम बिना वॉक के 1-2 महीने रह सकते हैं. लेकिन अगर आप खुद को नुकसान पहुंचा रहे हैं तो ठीक है, लेकिन अगर वॉक पर जा रहे हैं और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं, तो आप पूरे समाज को नुकसान पहुंचा रहे हैं. आपको ऐसा करने का कोई हक नहीं है. मेरे परिवार ने मुझे भिवानी में कहीं भी नहीं जाने के लिए कहा और हम सभी सरकारी आदेश का पालन कर रहे हैं.”
विकास कृष्णन, बॉक्सर और डीएसपी

ओलंपिक को टालने के फैसले का कृष्णन ने स्वागत किया है. उन्होंने कहा, "मैं IOC के फैसले का स्वागत करता हूं. ओलंपिक एक स्पोर्टिंग इवेंट है, लेकिन यहां लोग अपनी जान के लिए जूझ रहे हैं. लोगों की जान पर बनी हुई है. अमेरिका, इटली, फ्रांस को देखिए. कई देशों में इसका काफी प्रभाव है. हमें इसको गंभीरता से लेना चाहिए. लोगों की जिंदगी हमारे लिए पहले है."

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 09 Apr 2020, 05:01 PM IST
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!