COVID-19: टोक्यो ओलंपिक होगा स्थगित, IOC के वरिष्ठ सदस्य का दावा
टोक्यो में 24 जुलाई से ओलंपिक खेलों का आयोजन होना है
टोक्यो में 24 जुलाई से ओलंपिक खेलों का आयोजन होना है(फोटोः pti)

COVID-19: टोक्यो ओलंपिक होगा स्थगित, IOC के वरिष्ठ सदस्य का दावा

कोरोनावायरस के कारण इस साल के सबसे बड़े खेल कार्यक्रम टोक्यो ओलंपिक का स्थगित होना तय है. अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी (IOC) के सबसे वरिष्ठ सदस्यों में से एक डिक पाउंड ने दावा किया है कि 2021 में इनका आयोजन हो सकता है. दुनियाभर में अपना खतरनाक प्रभाव दिखा रहे कोरोनावायरस (covid-19) के कारण लगभग सभी बड़े-छोटे खेल कार्यक्रम लगातार स्थगित या रद्द हो गए और टोक्यो ओलंपिक को स्थगित करने की भी लगातार मांग हो रही है.

Loading...

IOC के सदस्य पाउंड ने अमेरिकी वेबसाइट यूएसए टुडे से बात करते हुए इस बात की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि अगले चार हफ्तों में कमेटी खेलों को टालने और अगली तारीख तय करने जैसी डिटेल्स पर काम करेगी.

वाडा (WADA) के पहले चेयरमैन रह चुके डिक पाउंड ने यूएसए टुडे से कहा-

“IOC के पास जो सूचना है, उसके आधार पर खेलों को स्थगित करने का फैसला हो चुका है. आगे क्या होगा उसको लेकर अभी मापदंड तय नहीं हैं, लेकिन टोक्यो ओलंपिक अपने 24 जुलाई की अपनी तय तारीख पर नहीं होंगे. ये मैं जानता हूं.”

78 वर्षीय पाउंड पिछले कई दशकों से आईओसी के सबसे प्रभावशाली सदस्यों में से एक रहे हैं. उन्होंने कहा कि खेलों को शायद 2021 में आयोजित किया जाएगा, अगले चार हफ्तों में इसके विवरण पर काम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि आईओसी जल्द ही अपने अगले कदमों की घोषणा करेगा.

IOC के अध्यक्ष थॉमस बाख ने रविवार 22 मार्च को ही कहा था कि IOC सभी परिदृश्यों पर विचार कर अगले 4 हफ्ते में ओलंपिक के भविष्य पर कोई फैसला लेगा. इसके बाद रविवार को ही कनाडा ने साफ कर दिया था कि अगर मौजूदा हाल में तय समय में ओलंपिक हुए तो वो अपनी टीम नहीं भेजेंगे.

ये भी पढ़ें : ओलंपिक पर IOA ने भी कड़ा किया रुखः खिलाड़ियों की सुरक्षा सबसे पहले

कोई फैसला लेने से पहले एक महीने इंतजार करेंगे: IOA

कोरोनावायरस के चलते कनाडा के ओलंपिक खेलों से पीछे हटने के बीच भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने सोमवार को कहा कि ओलंपिक में देश की भागीदारी को लेकर कोई भी फैसला लेने से पहले कम से कम एक महीने इंतजार करेंगे. आईओए सचिव राजीव मेहता ने कहा कि कोविड 19 महामारी के चलते पैदा हुए हालात पर वे लगातार नजर रखे हुए हैं. उन्होंने कहा,‘ ‘हम चार से पांच सप्ताह इंतजार करेंगे और उसके बाद आईओसी और खेल मंत्रालय से मशविरे के बाद ही कोई फैसला लेंगे’’ उन्होंने कहा, ‘‘दूसरे देशों की तुलना में भारत में हालात उतने बुरे नहीं है.’’

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our अन्य खेल section for more stories.

    Loading...