धोनी ने वनडे में छुआ 10 हजार रनों का आंकड़ा, बने 5वें बल्लेबाज
सिडनी वनडे में धोनी ने बनाया अपने करियर का 33वां अर्द्धशतक 
सिडनी वनडे में धोनी ने बनाया अपने करियर का 33वां अर्द्धशतक (फोटो:PTI)

धोनी ने वनडे में छुआ 10 हजार रनों का आंकड़ा, बने 5वें बल्लेबाज

भारत को दो वर्ल्डकप जिताने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने एक नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है. धोनी भारत की तरफ खेलते हुए वनडे इंटरनेशनल में 10,000 रन पूरे करने वाले पांचवें बल्लेबाज बन गए हैं. ऑस्ट्रेलिया के साथ खेली जा रही तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच में धोनी ने अपने 10 हजार रन पूरे किए. इस मैच से पहले वह वनडे में अपने 10 हजार रनों से सिर्फ 1 ही रन दूर थे.

वैसे तो धोनी ने वनडे में 10 हजार रनों का आंकड़ा 2017 में ही छू लिया था. इंग्लैंड दौरे पर उनके वनडे 10 हजार रन पूरे हो चुके थे. लेकिन इन रनों में एशिया एकादश की तरफ से अफ्रीका एकादश के खिलाफ बनाए गए 174 रन भी शामिल थे. जिन्हें भारत की तरफ से खेलते हुए रनों में नहीं जोड़ा गया. जिसके बाद अब जाकर धोनी ने यह आंकड़ा पार किया है. धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के साथ पहले वनडे में 51 रनों की पारी खेली.

पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान धोनी ने भारत की तरफ से 330 वनडे मैचों में 49.75 की औसत से 10,050 रन बनाए हैं. जिसमें नौ शतक और 67 अर्धशतक शामिल हैं. 

10 हजार रन बनाने वाले बल्लेबाज

धोनी भारत की तरफ से 10 हजार रन बनाने वाले पांचवे बल्लेबाज बने हैं. उनसे पहले मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और मौजूदा भारतीय कप्तान विराट कोहली यह आंकड़ा छू चुके हैं.

ये भी पढ़ें : पंत ने सिडनी टेस्ट में बनाए 159 रन और तोड़ डाला धोनी का रिकॉर्ड

2018 में नहीं दिखा करिश्मा

महेंद्र सिंह धोनी का नाम आते ही उनकी तूफानी बल्लेबाजी और टीम को कंधों पर उठाने का जज्बा सामने आता है. लेकिन पिछला साल धोनी के लिए इतना खास नहीं रहा. साल 2018 में सिर्फ औसत ही नहीं बल्कि स्ट्राइक रेट के लिहाज से भी धोनी के लिए बहुत खराब रहा. धोनी ने इस साल सिर्फ 71.42 के हल्के स्ट्राइक रेट से रन बनाए. धोनी बहुत ही एग्रेसिव खिलाड़ी माने जाते हैं और डेथ ओवर्स में उनसे बढ़िया फिनिशर किसी को नहीं कहा जाता लेकिन इस साल गेंद को बाउंड्री पार करने में वो विफल ही रहे. उन्होंने अभी तक साल 2018 में केवल 19 चौके और 2 छक्के ही लगाए हैं.

ये भी पढ़ें : धोनी के लिए सबसे खराब रहा साल 2018, ये रिकॉर्ड हैरान करने वाला है

(पहली बार वोट डालने जा रहीं महिलाएं क्या चाहती हैं? क्विंट का Me The Change कैंपेन बता रहा है आपको! Drop The Ink के जरिए उन मुद्दों पर क्लिक करें जो आपके लिए रखते हैं मायने.)

Follow our क्रिकेट section for more stories.

    वीडियो