ADVERTISEMENT

मांजरेकर से गंभीर तक उठा रहे सवाल, DRS विवाद में बोलकर चौतरफा घिरे विराट कोहली

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर कुलिनन ने कहा कोहली का ऐसा व्यवहार क्रिकेट के मैदान पर अस्वीकार्य था.

Published
<div class="paragraphs"><p>विराट कोहली </p></div>
i

भारत के बल्लेबाज और टेस्ट कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli DRS controversy) साउथ अफ्रीका में अंतिम टेस्ट के दौरान DRS का फैसला भारत के खिलाफ जाने के बाद स्टंप माइक में बोलकर घिर गए हैं. कई पुराने क्रिकेटरों ने उनकी आलोचना की है.

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व महान क्रिकेटर डेरिल कलिनन, भारत के संजय मांजरेकर और गौतम गंभीर ने विराट कोहली की मैदान पर उनके व्यवहार के लिए आलोचना की.

ADVERTISEMENT

मर्यादा रखनी चाहिए और ऐसा करने से बचना चाहिए- कुलिनन

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर कुलिनन ने कहा, "मैं विराट कोहली से प्यार करता हूं, मुझे उनका क्रिकेट पसंद है. लेकिन आपको गलती नहीं करनी चाहिए. कुछ मर्यादा रखनी चाहिए और उनको ऐसा कुछ करने से बचना चाहिए था. कोहली का ऐसा व्यवहार क्रिकेट के मैदान पर अस्वीकार्य था, लेकिन विराट कोहली होने के कारण इससे दूर हो गए. वरना मुझे यह बिल्कुल पसंद नहीं है."

मुझे भी यह अच्छा नहीं लगा- संजय मांजरेकर

भारत के पूर्व क्रिकेटर से कमेंटेटर बने संजय मांजरेकर ने कहा,

"एल्गर को डीआरएस से राहत मिलने के बाद, जो भी हुआ वह मेरे लिए काफी अलग था, क्योंकि भारतीय खेमे की ओर से यह कहा गया था कि मेजबान प्रसारक यह सुनिश्चित करने के लिए कुछ शरारत कर रहे थे कि वे अपनी घरेलू टीम को लाभ पहुंचाए. यह एक बहुत ही गंभीर प्रकार का आक्षेप है. मुझे भी यह अच्छा नहीं लगा."
ADVERTISEMENT

कोहली बहुत अपरिपक्व हैं- गंभीर

गंभीर ने कोहली की प्रतिक्रिया पर आलोचना करते हुए इसे अपरिपक्व करार दिया. पूर्व खिलाड़ी ने कहा कि इस तरह की प्रतिक्रिया युवा क्रिकेटरों के लिए एक खराब उदाहरण पेश करती है.
गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा, "कोहली बहुत अपरिपक्व हैं. किसी भारतीय कप्तान के लिए स्टंप्स में ऐसा कहना सबसे बुरा है. ऐसा करने से आप कभी भी युवाओं के आदर्श नहीं बनेंगे."

उन्होंने आगे कहा,

"कोहली ने जो किया वह वास्तव में बुरा है। स्टंप माइक के पास जाकर उस तरह से प्रतिक्रिया करना, वह वास्तव में अपरिपक्व है. आप एक भारतीय कप्तान से ऐसी उम्मीदें नहीं करते हैं, क्योंकि तकनीक आपके हाथ में नहीं है. मुख्य कोच राहुल द्रविड़ इस तरह के व्यवहार को रोकने के लिए कोहली से बात करें. मुझे उम्मीद है कि राहुल द्रविड़ उनसे बात करेंगे, क्योंकि द्रविड़ जिस तरह के कप्तान थे, उन्होंने कभी इस तरह की प्रतिक्रिया नहीं दी होती."

क्या था DRS विवाद?

विवादास्पद DRS कॉल पर केएल राहुल, कप्तान विराट कोहली और स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने अलग-अलग प्रतिक्रियाएं दीं. यह घटना पारी के 21वें ओवर में हुई जो अश्विन ने गेंद फेंकी. उन्होंने एक टॉस-अप गेंद फेंकी और वह अंदर की ओर आई, और एलगर के पैड पर हिट किया. अंपायर ने इसे आउट करार दिया.

हालांकि, एल्गर ने अंपायर के फैसले पर DRS मांगा और रिप्ले से पता चला कि गेंद स्टंप के ऊपर से जा रही थी और फैसला निर्णय पलट गया. गेंद को स्टंप्स के ऊपर से जाते देख टीम इंडिया हैरान रह गई. यहां तक ​​कि अंपायर इरास्मस को भी सिर हिलाते हुए देखा गया कि कैसे गेंद स्टंप्स को मिस कर रही थी.
ADVERTISEMENT

इसके बाद सबसे पहले, माइक ने अश्विन को यह कहते हुए पकड़ा, "आपको सुपरस्पोर्ट (दक्षिण अफ्रीका प्रसारक) जीतने के बेहतर तरीके खोजने चाहिए." इसके बाद विराट कोहली ने कहा, "अपनी टीम पर भी ध्यान दें, न कि केवल विपक्ष पर, हर समय लोगों को पकड़ने की कोशिश कर रहा है." अंत में केएल राहुल ने कहा, "पूरा देश इलेवन खिलाफ खेल रहा है."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT