IPL:अर्जुन तेंदुलकर को खरीदने पर क्या बोले आकाश अंबानी,टीम प्रबंधन

मुंबई इंडियंस ने आईपीएल नीलामी 2021 में सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन को खरीदा

Published
IPL:अर्जुन तेंदुलकर को खरीदने पर क्या बोले आकाश अंबानी,टीम प्रबंधन

पिछले सीजन की आईपीएल चैंपियन मुंबई इंडियंस (MI) ने 18 फरवरी को हुई आईपीएल नीलामी 2021 में सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को खरीदा था. टीम के इस फैसले पर सवाल खड़े होने शुरू हो गए हैं. हालांकि, मुंबई इंडियंस के हेड कोच महेला जयवर्धने और टीम के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट ऑपरेशन्स जहीर खान ने अर्जुन के चुने जाने को 'पूरी तरह एक क्रिकेट फैसला' बताया.

अर्जुन को नीलामी में मुंबई इंडियंस ने 20 लाख रुपये में खरीदा. 21 साल के अर्जुन लेफ्ट आर्म मध्यम पेसर हैं. जयवर्धने ने कहा कि ‘वो समय के साथ सीखेंगे और विकसित होंगे.’ 

आईपीएल नीलामी के बाद मीडिया के साथ एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में जयवर्धने ने कहा, "जब भी हम पोटेंशियल देखते हैं और देखते हैं कि लोग मेहनत कर रहे हैं तो हम निवेश करने की सोचते हैं और अर्जुन को लेना अच्छा है. ये सचिन के लिए भी अच्छा होगा कि अर्जुन को मुंबई की टीशर्ट पहने और स्क्वाड का हिस्सा बनते देखें."

“हमने इस फैसले को पूरी तरह स्किल के आधार पर देखा है. अर्जुन के सिर पर सचिन की वजह से बड़ा टैग होगा. लेकिन सौभाग्य से वो बॉलर है, बैट्समैन नहीं. तो मुझे लगता है कि सचिन अगर अर्जुन की तरह बॉलिंग कर पाएंगे तो उन्हें गर्व होगा.” 
महेला जयवर्धने

महेला जयवर्धने ने कहा, "ये अर्जुन के लिए सीखने का समय होगा. उसने अभी मुंबई के लिए खेलना शुरू किया था और अब फ्रैंचाइजी के लिए. वो विकसित होगा. अभी तो वो यंग है. बहुत फोकस्ड भी."

'अर्जुन पर सचिन का बेटा होने का दबाव होगा'

UAE में आईपीएल 2020 के दौरान अर्जुन मुंबई इंडियंस के लिए एक नेट बॉलर थे. इस साल की शुरुआत में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उन्होंने मुंबई की तरफ से डेब्यू किया था.

मुंबई इंडियंस के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट ऑपरेशन्स जहीर खान ने कहा, "मैंने अर्जुन के साथ काफी समय नेट पर बिताया है, उसे कुछ ट्रिक्स सिखाई हैं, वो मेहनती बच्चा है, वो सीखने के लिए तैयार रहता है."

“सचिन तेंदुलकर का बेटा होने का भी दबाव है. उसे इसके साथ रहना होगा. टीम का माहौल उसकी मदद करेगा. इससे उसे अच्छा क्रिकेटर बनने में मदद मिलेगी. कितनी बार नीलामी में एक यंगस्टर को चुना जाता है और लोग उसके बारे में बाते करते हैं. उसे खुद को साबित करना होगा.” 
जहीर खान

जहीर ने कहा कि 'टीम हमेशा टैलेंट की खोज में रहती है, उन्हें मौके देती है. नीलामी ने ये प्रक्रिया बदली नहीं है.'

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!