मैदान में विराट कोहली का डांस तो देखा, अब उसका कारण भी जान लीजिए
पहले वनडे में बारिश के कारण जब मैच रुका था तो कोहली मैदान पर ही डांस करने लगे थे
पहले वनडे में बारिश के कारण जब मैच रुका था तो कोहली मैदान पर ही डांस करने लगे थे(फोटोः ट्विटर/@BCCI)

मैदान में विराट कोहली का डांस तो देखा, अब उसका कारण भी जान लीजिए

विराट कोहली रोज मैदान पर नए रिकार्ड कायम कर रहे हैं. कप्तान और खिलाड़ी के तौर पर वह काफी सफल हैं और साथ ही एक इंसान के तौर पर वह अपने जीवन का भरपूर मजा ले रहे हैं और यही कारण है कि उनका जब भी जी चाहता है, जब भी कहीं संगीत बजता है, नाच लेते हैं. खुद कोहली ने ये बातें कही हैं.

Loading...

पोर्ट ऑफ स्पेन में भारत की जीत के बाद विराट कोहली ने बीसीसीआई के लिए 'चहल टीवी' पर अपने साथी खिलाड़ी युजवेंद्र चहल के साथ इंटरव्यू में ये बात बताई.

बीसीसीआई ने कोहली के इस इंटरव्यू को अपनी वेबसाइट बीसीसीआई.टीवी पर पोस्ट किया. चहल से बातचीत के दौरान कोहली ने कहा,

“मैं मैदान पर भरपूर आनंद ले रहा हूं. सिर्फ कप्तान होने के कारण मैं किसी प्रकार के दबाव में नहीं रहता. हमें भारत का प्रतिनिधित्व करने का सौभाग्य मिला है और इसीलिए हमारे लिए जरूरी है कि हम जीवन का आनंद लें. हमें जब भी जहां भी संगीत बजे नाचना चाहिए और अपने विपक्षी खिलाड़ियों को भी संग ले लेना चाहिए. इस समय में मैं काफी खुश हूं और यही कारण है कि जब भी मौका मिलता है डांस करने से नहीं चूकता.”

कोहली ने दूसरे वनडे में 120 रनों की पारी खेली. भारत ने यह मैच जीता. कोहली ने इस पारी के दौरान कई रिकॉर्ड कायम किए.

कोहली ने अपने वनडे करियर का 42वां शतक पूरा किया. इसके साथ ही सौरव गांगुली के 11363 रनों को पीछे छोड़ते हुए कोहली भारत के लिए वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर आ गए. अब उनकी नजर सचिन तेंदुलकर के 18426 रनों के वर्ल्ड रिकॉर्ड पर है.

ये भी पढ़ें : IND vs WI: भारत की वेस्टइंडीज पर आसान जीत, कोहली-भुवनेश्वर चमके

अपनी पारी के बारे में कोहली ने कहा कि टॉप तीन में से हमेशा किसी एक को रन बनाना बेहद जरूरी है और आज वो काम उन्होंने किया.

“हमारा हमेशा से लक्ष्य रहा है कि टॉप-3 में से कोई एक बड़ा स्कोर करे. रोहित काफी समय से अच्छा कर रहे हैं. मुझे भी जब मौका मिला है, रन बनाए हैं. दुर्भाग्य से रोहित और धवन आज नहीं चल सके और इसी कारण मेरे लिए विकेट पर बने रहना जरूरी था.”
विराट कोहली

यह पूछे जाने पर कि बल्लेबाजी या फिर फील्डिंग के दौरान क्या चीज उन्हें प्रेरित करती है? कोहली ने कहा,

“मेरा बहुत सरल माइंडसेट होता है. मैं टीम के लिए 100 फीसदी देना चाहता हूं. बल्लेबाजी हो या फिर फील्डिंग या फिर कैच या फिर रन आउट, मैं अपना श्रेष्ठ देना चाहता हूं. इसके लिए अनुशासित जीवनशैली जरूरी है. अगर आप अपना 100 फीसदी नहीं दे रहे हैं तो मेरी नजर में यह टीम के साथ नाइंसाफी है.”

दोनों टीमों के बीच सीरीज का आखिरी मैच बुधवार 14 अगस्त को पोर्ट ऑफ स्पेन में ही खेला जाएगा. भारत के पास वेस्टइंडीज के खिलाफ एक और सीरीज जीतने का मौका है.

ये भी पढ़ें : 11 पारियों के बाद कोहली का पहला शतक, गांगुली से भी आगे निकले

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our क्रिकेट section for more stories.

    Loading...