फेसबुक ने ऑस्ट्रेलिया में न्यूज नहीं दिखाने का लिया फैसला

ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने फेसबुक के इस फैसले को ‘निरंकुश’ और ‘गलत’ बताया है.

Updated
फेसबुक के इस फैसले की ऑस्ट्रेलियन सरकार ने की है आलोचना
i

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक ने 18 फरवरी 2021 को ऑस्ट्रेलिया में समाचार वेबसाइटों को अपने प्लेटफॉर्म पर खबरें पोस्ट करने पर बैन लगा दिया. ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने फेसबुक के इस फैसले को 'निरंकुश' और 'गलत' बताया है.

ऑस्ट्रेलियाई सरकार के पैसा देकर न्यूज दिखाने के प्रस्तावित कानून के विरोध में फेसबुक ने यह फैसला लिया है. इस कानून के मुताबिक अगर फेसबुक अपने प्लेटफॉर्म पर कोई न्यूज शेयर करता है तो इसके बदले उसे संबंधित मीडिया कंपनी को पैसे देने होंगे.

इस कड़े फैसले के तुरंत बाद ही कई नेताओं और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने फेसबुक के इस फैसले की निंदा की है. कई न्यूज पेज, आधिकारिक स्वास्थ्य विभागों के पेज और आपतकालीन सेवाओं और वेलफेयर नेटवर्क के पेजों को फेसबुक ने अपने प्लेटफॉर्म पर ब्लॉक कर दिया है.

कोषाध्यक्ष जोश फ्राइडेनबर्ग ने फेसबुक के फैसले को 'गैरजरूरी' बताया और कहा कि इस फैसले से देश में नेटवर्किंग साइट की साख को नुकसान होगा.

उन्होंने कहा, ''फेसबुक गलत था, फेसबुक की कार्रवाई गैरजरूरी थी, साइट निरंकुश थी और वो ऑस्ट्रेलिया में अपनी साख को नुकसान पहुंचा रही है.''

फेसबुक की ओर से ‘कोई चेतावनी नहीं दी गई’

फ्राइडेनबर्ग ने आरोप लगाया कि फेसबुक और गूगल ने अपने प्लैटफॉर्म पर खबरें दिखाना बंद करने से जुड़ी कोई भी चेतावनी सरकार को नहीं दी. उन्होंने कहा, ''फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग से जब हमने पिछले वीकेंड बात की थी तो उन्होंने खबरें दिखाना बंद करने से जुड़ी कोई चेतावनी नहीं दी.''

फेसबुक का बयान

फेसबुक के रीजनल मैनेजिंग डायरेक्टर विलियम ईस्टन ने अपने बयान में कहा कि प्रस्तावित कानून हमारे प्लेटफॉर्म और उन पब्लिशर्स के बीच के संबंधों को गलत तरीके से पेश करता है जो फेसबुक का इस्तेमाल न्यूज कंटेंट शेयर करने के लिए करते हैं.

उन्होंने कहा, ''इस कानून की वजह से हमें कड़ा फैसला लेना पड़ा: या तो हम ऐसे कानून का पालन करते जो हमारे और पब्लिशर्स के संबंधों की वास्तविकता को अनदेखा कर रहा है या ऑस्ट्रेलिया में हमारे प्लैटफॉर्म पर न्यूज कंटेट को शेयर करने की अनुमति नहीं देते. बड़े दुख की बात है कि हम बाद वाला फैसला ले रहे हैं.

अपडेट: कई सरकारी फेसबुक पेजों से बैन हटा लिया गया है. हालांकि, कई इंटरनैशनल मीडिया साइटों को खबरें शेयर करने से रोका गया है. इनमें न्यूयॉर्क टाइम्स, बीबीसी और वॉल स्ट्रीट जर्नल जैसे मीडिया आउटलेट शामिल हैं.

फेसबुक के इस फैसले पर गूगल की ओर से कोई बयान नहीं आया है.

(इनपुट: रॉयटर्स)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!