‘जूनियर से रिश्ते’ के बाद गूगल के लीगल चीफ ऑफिसर का इस्तीफा

ड्रमंड 1998  से 18 साल तक कंपनी के शीर्ष वकील के तौर पर कंपनी से जुड़े रहे

Published11 Jan 2020, 01:58 PM IST
साइंस
2 min read

गूगल की मूल कंपनी अल्फाबेट के लीगल चीफ ऑफिसर डेविड ड्रमंड ने ऑफिस के एक जूनियर कर्मी से अनुचित रिश्ते की बात सामने आने के बाद इस्तीफा देने का फैसला किया है.

ड्रमंड 1998 में कंपनी से जुड़े थे और लगभग 18 साल तक कंपनी के शीर्ष वकील के तौर पर कंपनी से जुड़े रहे. इस दौरान उन्होंने कंपनी के सह-संस्थापकों लेरी पेज और सर्गे ब्रिन के साथ करीबी रखते हुए काम किया. लेरी और सर्गे ने भी हाल ही में इस्तीफा देकर इसकी जिम्मेदारी गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सुंदर पिचाई को सौंपी थी.

कंपनी ने शुक्रवार को अमेरिका सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) से कहा,

“10 जनवरी 2010 को अल्फाबेट इंक घोषणा करता है कि डेविड ड्रमंड ने कंपनी को सूचित किया है कि वे 31 जनवरी 2020 से कंपनी से सेवानिवृत्त हो रहे हैं.”

सीएनबीसी को प्राप्त ड्रमंड के आंतरिक ज्ञापन के अनुसार, "लेरी और सर्गे के अल्फाबेट के कार्यकारी के तौर पर हटने के बाद कंपनी एक नए रोचक दौर में प्रवेश कर रही है, और मुझे लगता है कि नई पीढ़ी के लोगों के लिए रास्ता बनाने का मेरे लिए यह सही समय है."

उन्होंने कहा, "परिणामस्वरूप, काफी सोच-विचार कर मैंने इस महीने के अंत में सेवानिवृत्त होने का निर्णय ले लिया है."

पिछले साल अगस्त में चौंकाने वाला दावा

गूगल के एक पूर्व वकील ने पिछले साल अगस्त में चौंकाने वाला दावा किया था कि गूगल की कुछ कार्यकारी अधिकारियों तथा कंपनी के लीगल चीफ ऑफिसर ड्रमंड के बीच अनुचित रिश्ता आम तौर पर होना स्वीकार किया था. ड्रमंड का एक उस पूर्व वकील से रिश्ता था, जिसने 2007 में एक बच्चे को जन्म दिया था.

जेनिफर ब्लेकेली ने मीडियम पर पोस्ट लिखते हुए कहा कि ड्रमंड को अच्छी तरह पता था कि उनके रिश्ते से गूगल का नियम टूट रहा है. गूगल में हाल ही में यौन शोषण के दो हाई प्रोफाइल मामले हो चुके हैं.

एंडी रुबिन और अमित सिंघल को गूगल ने निकाला था

कंपनी ने कथित तौर पर एंडी रुबिन और एक अन्य पूर्व कार्यकारी भारतीय मूल के अमित सिंघल को कंपनी से निकालते हुए एग्जिट पैकेज के तौर पर उन्हें 10.5 करोड़ डॉलर दिए थे. दोनों लोग 2014 में यौन उत्पीड़न के आरोपी थे. सिंघल जहां गूगल सर्च में वरिष्ठ उपाध्यक्ष थे, वहीं रुबिन गूगल में एंड्रॉयड प्रमुख थीं. सिंघल बाद में गूगल की बागी कंपनी उबर से जुड़ गए.

उबर को उनके यौन शोषण मामले की जानकारी मिलने के बाद 2017 में उन्हें उबर के इंजीनियरिंग के वरिष्ठ उपाध्यक्ष के पद से हटा दिया था. पिचाई ने पिछले साल कहा था कि गूगल यौन उत्पीड़न के मामलों में अब तक 48 लोगों को हटा चुका है.

इनपुट आईएएनएस से

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!