वाराणसी में रहने वाली 78 साल की कुसुमवती रेत और बजरी खाती हैं (फोटो: Youtube Screengrab)
| 1 मिनट में पढ़िए

गजब का हाजमा: 78 साल की उम्र में रेत-बजरी है लंच-डिनर

वाराणसी में रहने वाली 78 साल की कुसुमवती रोजाना रेत खाती हैं. वो कहती हैं कि यह उनकी सेहत के लिए अच्छा है. वह कभी डॉक्टर के पास नहीं गई हैं. उनका दावा है कि वह यह पिछले 60 सालों से खा रही हैं. इसकी वजह से उन्हें कभी पेट या मुंह की कोई दिक्कत नहीं आई.

हालांकि उनके नाती-पोते और उनके रिश्तेदार उनकी इस आदत को लेकर चिंतित हैं और उन्हें डॉक्टर के पास जाने को भी कहते हैं. लेकिन वह कहती हैं कि वह पिछले कई सालों से रेत खा रही हैं और कभी कभी कुछ रेत इन्हें मीठा लगता है तो वह ज्यादा भी खा लेती हैं.

वीडियो एडिटर: मो. इब्राहिम