“सीधे अस्पताल जाकर लगवा सकेंगे कोरोना वैक्सीन’’

कोरोना वैक्सीनेशन अभियान में अहम भूमिका निभा रहे आरएस शर्मा से संजय पुगलिया की खास बातचीत

Published

कोरोना वैक्सीनेशन अभियान में अहम भूमिका निभा रहे आरएस शर्मा से जानिए कोविड वैक्सीन रजिस्ट्रेशन को लेकर तमाम सवालों के जवाब. एम्पावर्ड पैनल फॉर कोविड एडमिनिस्ट्रेशन के चेयरमैन ने क्विंट के एडिटोरियल डायरेक्टर संजय पुगलिया से खास बातचीत में रजिस्ट्रेशन से जुड़ी सभी बारीकियों को समझाया.

क्या कोरोना वायरस के वैक्सीन के लिए Co-WIN ऐप डाउनलोड करना जरूरी है?

वैक्सीन के लिए कोई ऐप डाउनलोड करना जरूरी नहीं है. अरोग्य सेतु एप के जरिए भी आप वैक्सीन ले सकते हैं. जन सेवा केंद्र, कॉल सेंटर से भी रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. टेलीफोन करके और कॉल सेंटर के माध्यम से भी आप अप्वाइंटमेंट ले सकते हैं. कोई और शख्स भी इस तरह का ऐप बनाना चाहता है तो वो बना सकता है. खुद के ऐप से आप अपने पड़ोसियों का भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं.

बिना फीचर फोन, बिना कनेक्टिविटी के गाजीपुर के किसी गांव में बैठा इंसान अगर वैक्सीन लगवाना चाहता है तो वो क्या करे?

आप गांव के पंचायत केंद्र, जन सेवा केंद्र के जरिए बुकिंग करा सकते हैं. पड़ोसी के पास फीचर फोन हो, तो भी बुकिंग करा सकते हैं. देश में करीब 70 करोड़ लोगों के पास इंंटरनेट कनेक्टिविटी और स्मार्टफोन है. आप किसी भी कॉल सेंटर से फोन के जरिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं.

वैक्सीन के लिए प्री बुकिंग के बदले वॉकइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं?

वॉकइन वैक्सीनेशन की सुविधा भी दी जाएगी. जिस तरह से ट्रेन के टिकट में प्री बुकिंग की सुविधा होती है और कुछ लोग सामने से भी टिकट ले सकते हैं वैसे ही सुविधा होगी. आप वहां किसी भी डॉक्यूमेंट के साथ जा सकते हैं और वैक्सीन ले सकते हैं. प्री बुकिंग से यही फायदा होगा कि आपको पता होगा कि आपको इस समय और इस दिन यहां पर वैक्सीन लग जाएगी.

जिनके पास कोई पहचान पत्र न हो, वो क्या करें?

लोगों के पास कोई न कोई पहचान पत्र तो होगा ही. आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट किसी भी आईडी में बस नाम, उम्र और फोटो होनी चाहिए.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!