एक्टर जीशान का सवाल-गांधी का देश जिन्ना में क्यों बदल रहा?

देशभर में CAA के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं

Updated
फीचर
1 min read

देशभर में सीएए-एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं, लोग खुलकर इस मुद्दे पर अपनी राय रख रहे हैं. ऐसे में एक्टर जीशान अय्यूब सरकार से कुछ सवाल कर रहे हैं.

मेरे देश में बड़ा बवाल है..

और मेरे छोटे-छोटे सवाल हैं

सवाल हैं इस सरकार से..
जिसे चुना था बड़े ऐतबार से
कि तुम्हारा तो काम सबको साथ चलाना है
आग लगाना नहीं, लगी आग को बुझाना है
तो क्या है ये मजबूरी ऐसी?
फिर क्यों है ये जिद सी ऐसी?
कि जलते शहर, फैलता जहर, आपको कुछ ना दिखाई दे...
मैं तो हूं सरहद के अंदर, मेरा दर्द भी ना सुनाई दे?


सच बोलो, सेक्यूलर देश में क्या
मेरे सेक्यूलर होने का तुम्हें मलाल है?

मेरे देश में बड़ा बवाल है..
और मेरे छोटे-छोटे सवाल हैं

सवाल है मेरा उससे जो वोट देकर गुलाम बन जाता है
बिन समझे, बिन जाने, सब रट्टू तोते सा दोहराता है..
वो जो भूल गया कि उसका मजहब ही,
वसुधैव कुटुंबकम सिखाता है...

भक्ति में वो लीन है, ऐसे कि
ना पूरा हिंदू, ना सेक्यूलर रह पाता है!
अरे वो देश-धरम ही क्या
जो देखे हुलिया, ना देखे क्या हाल है?

मेरे देश में बड़ा बवाल है..

और मेरे छोटे-छोटे सवाल हैं



सवाल है उससे और अभी गहरा...

वो जो बना है बेजुबान, बहरा
वो जिसे लगता है कि सुरक्षित है
या चुप रहने में जिसका हित है
अरे जाओ देखो, समझो, जानो...
देश क्यों जल रहा है
गांधी का देश था कुछ और
जिन्ना में क्यों बदल रहा है
जिस संविधान ने रखा ख्याल तुम्हारा
अब तुम्हें रखना उसका ख्याल है



मेरे देश में बड़ा बवाल है..
और मेरे छोटे-छोटे सवाल हैं

स्क्रिप्ट: अभिनव नागर

टैलेंट: जीशान अय्यूब

कैमरा: मुकुल भंडारी, सुमित बडोला

एडिटर: आशीष मैक्यून, वीरू कृष्ण मोहन

प्रोड्यूसर: वत्सला सिंह, दिव्या तलवार

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!