पाकिस्तान में 72 साल बाद खुला एक हजार साल पुराना शिव मंदिर

पाकिस्तान में 72 साल बाद खुला एक हजार साल पुराना शिव मंदिर

न्यूज वीडियो

वीडियो एडिटर: अभिषेक शर्मा/ वरुण शर्मा

Loading...

पाकिस्तान सरकार ने इंडस्ट्रियल सिटी- सियालकोट में प्राचीन हिंदू मंदिर को हिंदू समुदाय के लिए खोला है. पाकिस्तान में हिंदू अल्पसंख्यक समुदाय है.

1947 में पार्टिशन के बाद जब पाकिस्तान बना तो 1000 साल पुराना शिवालय तेजा सिंह मंदिर बंद कर दिया गया था. 1992 में बाबरी मस्जिद को ढहाने के बाद पाकिस्तान युवाओं ने विरोध में इस मंदिर को तोड़ने की कोशिश की थी, जिसकी वजह से लोगों का इस मंदिर में आना-जाना बंद हो गया था.

ये भी पढ़ें : भारत-पाक तनाव के बीच करतारपुर कॉरिडोर को लेकर आज होगी बैठक

सरदार तेजा सिंह ने ये मंदिर- भगवान शिव के लिए बनवाया था.

‘हम बहुत खुश है कि हम 72 साल बाद इस मंदिर में पूजा कर पा रहे हैं. हम पाकिस्तान की सरकार का धन्यवाद करते हैं कि उन्होंने हमारे लिए इस मंदिर को फिर से खोला है.
भगत जसपाल, हिंदू पुजारी
‘इस मंदिर के ऊपर बहुत खुबसूरत गुम्बद हुआ करता था लेकिन जब भारत में बाबरी मस्जिद को गिराया गया तो यहां कुछ मुसलमान युवाओं ने विरोध करने के चलते इस मंदिर के गुंबद को गिरा दिया, लेकिन यहां आस-पास के लोग इसका बहुत सम्मान करते हैं.
मुहम्मद आमीन, दुकानदार

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस मंदिर को खोलने का निर्णय किया. अप्रैल 2019 में पाकिस्तान सरकार ने करीब 400 मंदिर को फिर से खोलने और उन्हें सुधारने का ऐलान किया.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our न्यूज वीडियो section for more stories.

न्यूज वीडियो
    Loading...