BJP की हार नफरत की राजनीति पर कसेगी लगाम:योगेंद्र यादव

दिल्ली चुनावी नतीजों को लेकर योगेंद्र यादव के साथ खास चर्चा

Published
न्यूज वीडियो
1 min read

पार्टी को चलाने के तरीके पर हुए विवाद के बाद योगेंद्र यादव को मार्च 2015 में आम आदमी पार्टी से निकल दिया गया था. दिल्ली विधानसभा चुनाव में पार्टी की बड़ी जीत के बाद यादव AAP के लिए खुश नजर आए. उन्होंने इस जीत के लिए आम आदमी पार्टी को बधाई दी.

11 फरवरी को शुरुआती रुझानों में AAP को 62 सीटों पर बढ़त के समय क्विंट ने योगेंद्र यादव से चर्चा की. यादव ने राजनीतिक रणनीति, ध्रुवीकरण की राजनीति और दोबारा AAP में शामिल होने के मुद्दों पर बात की.

यादव ने कहा कि उन्हें सबसे ज्यादा राहत इस बात की है कि बीजेपी दिल्ली का चुनाव हार गयी. योगेंद्र यादव ने कहा, "अगर पार्टी जीत गई होती, तो सब वही रणनीति अपनाते. सब हिंदू और मुस्लिम को एक-दूसरे के खिलाफ कर देते."

देखिए ये खास चर्चा.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!