ADVERTISEMENT

बिहार में थूक चटवाया, दलित फिर भी कह रहे, हम क्या कर सकते हैं - ग्राउंड रिपोर्ट

बिहार के औरंगाबाद में मुखिया उम्मीदवार ने दलितों को किया प्रताड़ित

बिहार (Bihar) के औरंगाबाद जिले के खरांटी भुइयां टोला से पिछले दिनों एक शर्मनाक घटना सामने आई. 10 दिसंबर को मुखिया चुनाव की काउंटिंग के दिन ऊंची जाति के दबंग मुखिया प्रत्याशी बलवंत सिंह ने दो दलितों पर पैसे लेकर भी वोट न देने का आरोप लगाया, इसकी सजा के तौर पर उनसे कान पकड़कर उठक-बैठक करवाई और फिर उनसे थूक भी चटवाया.

ADVERTISEMENT

पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर खूबर हंगामा हुआ और वीडियो वायरल भी हुआ. जिसके बाद जिला प्रशासन हरकत में आया और आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया. इस घटना के बाद क्विंट हिंदी के रिपोर्टर राजधानी पटना से करीब 175 किलोमीटर दूर औरंगाबाद पहुंचे, जहां उन्होंने पीड़ित से बातचीत की.

पीड़ित मंजीत ने बताया कि, मुखिया प्रत्याशी ने उसे वोट के बदले 3 हजार रुपए दिए थे. पीड़ित के मुताबिक उसने बलवंत सिंह को ही वोट दिया था, लेकिन काउंटिंग के दिन बलवंत ने पहले उससे पैसे वापस लिए और फिर वोट न देने का आरोप लगाकर प्रताड़ित किया. उसने बताया कि 20-25 लोगों के बीच उसके बाल पकड़कर पीटा गया और फिर थूक चटवाया गया.

पीड़ित के पिता रामसूरत भुइयां से बातचीत करने पर उन्होंने बताया कि, हमने बेटे से पूछा कि तुमने जब पैसा लिया था वोट दिया था या नहीं. तो उसने बताया कि वोट तो मैंने दे दिया. लेकिन उन्हें विश्वास नहीं है. अगर वो हमें बता देता तो हम कुछ बात करते.

पुलिस ने बताया कि इस मामले की रिपोर्ट जल्द ही कोर्ट में पेश की जाएगी. मुआवजे को लेकर भी बातचीत चल रही है. अभी तक यही बताया गया है कि वोट नहीं देने के चलते ये काम किया गया है. हमारी जानकारी में दो ही ऐसे लोग हैं, जिन्हें प्रताड़ित किया गया.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT