बंगाल हिंसा पर PM मोदी ने की राज्यपाल से बात, ममता ने की बैठक

पश्चिम बंगाल के दो दिन के दौरे पर पहुंचे नड्डा, ममता पर बोला हमला

ममता बनर्जी और नरेंद्र मोदी
i

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद एक बार फिर हिंसा का दौर शुरू हो चुका है. बीजेपी और टीएमसी ने अपने कई कार्यकर्ताओं की हत्या का दावा किया है. इसी बीच अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इस मामले को लेकर पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ से बातचीत की है. राज्यपाल ने खुद इस बात की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि पीएम ने राज्य में कानून व्यवस्था की मौजूदा हालात को लेकर चिंता जताई. इसी बीच बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी पश्चिम बंगाल पहुंच चुके हैं.

राज्यपाल ने पीएमओ को दी हिंसा की जानकारी

पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजे सामने आते ही बीजेपी और टीएमसी समर्थकों के बीच झड़प की खबरें सामने आने लगीं. इसके बाद कई लोगों की मौत की बात भी सामने आई, जिसे लेकर पहले राज्यपाल ने डीजीपी और कमिश्नर को समन किया और इसके बाद केंद्रीय गृहमंत्रालय ने भी रिपोर्ट मांगी.

लेकिन अब प्रधानमंत्री मोदी ने राज्यपाल से राज्य में कानून व्यवस्था को सुधारने और इसकी तरफ ध्यान देने की बात की है. राज्यपाल धनखड़ ने बताया कि मैंने प्रधानमंत्री कार्यालय को बताया कि कैसे हिंसा और आगजनी को अंजाम दिया गया. इसके बाद भी लूट और हत्याओं का दौर लगातार जारी है. हालात को सुधारने के लिए सख्त कदम उठाने चाहिए.

ममता ने बुलाई बैठक

इसी बीच ममता बनर्जी ने भी हिंसा को लेकर एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई. ममता बनर्जी के साथ इस बैठक में चीफ सेक्रेट्री, होम सेक्रेट्री, डीजीपी और कोलकाता के पुलिस कमिश्नर शामिल थे. बैठक में चुनाव नतीजों के बाद हुई हिंसा को लेकर चर्चा हुई. 

बता दें कि ममता बनर्जी ने चुनाव में जीत के बाद सभी लोगों से अपील करते हुए कहा था कि वो शांति बनाए रखें. ममता ने चेतावनी देते हुए कहा था कि जो लोग हिंसा करते हुए पाए जाएंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. लेकिन इसके बावजूद हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही है.

जेपी नड्डा बोले- बेकार नहीं जाने देंगे शहादत

अब बंगाल में जारी हिंसा के बीच बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी वहां पहुंच चुके हैं. वो पश्चिम बंगाल में दो दिन तक रहेंगे. नड्डा ने यहां पहुंचते ही ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला.

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल के चुनाव के नतीजों के बाद जो घटनाएं देखने और सुनने को मिली हैं, वो हमें काफी निराश करती हैं, चिंता में डालती हैं. ऐसी घटनाएं भारत के विभाजन के समय मैंने सुनी थीं लेकिन आजाद भारत में चुनाव के नतीजों के बाद इतनी असहिष्णुता हमने आज तक नहीं देखी.

नड्डा ने कहा कि कार्यकर्ताओं पर जो प्रहार हो रहा है उसे व्यक्तिगत रूप से देखने और कार्यकर्ताओं के साथ इस विपत्ति काल में खड़े होकर लोकतांत्रिक तरीके से लड़ने के लिए BJP कृतसंकल्प है. उनकी (कार्यकर्ताओं) शहादत बेकार नहीं जाएगी, हम उनकी विचारधारा की लड़ाई निर्णायक मोड़ तक पहुंचाएंगे.

बताया जा रहा है कि जेपी नड्डा अपने इस दौरे में उन कार्यकर्ताओं के परिवार से भी मिलेंगे, जो हिंसा से पीड़ित हैं. बीजेपी का आरोप है कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी समर्थकों को निशाना बनाया है.

हिंसा को लेकर बीजेपी का धरना प्रदर्शन

बता दें कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी का दावा है कि उनके 6 कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है. वहीं टीएमसी का कहना है कि उनके भी 5 कार्यकर्ताओं की मौत हुई है. कुछ बीजेपी नेता 9 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की मौत का दावा कर रहे हैं.

बीजेपी अब इस मुद्दे पर एक बार फिर ममता बनर्जी को घेरने की तैयारी कर रही है. खुद जेपी नड्डा बंगाल पहुंचे हैं, साथ ही ममता बनर्जी के शपथ ग्रहण वाले दिन 5 मई को बीजेपी प्रदर्शन करेगी. बीजेपी ने कहा है कि वो तमाम कोरोना नियमों का पालन करते हुए प्रदर्शन करेंगे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!