पहली बार हुआ होगा कि PM ने बधाई के लिए फोन नहीं किया- ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने हिंसा करने वालों की दी चेतावनी, होगी कड़ी कार्रवाई

पहली बार हुआ होगा कि PM ने बधाई के लिए फोन नहीं किया- ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने इस बार शानदार जीत दर्ज कर बताया कि राज्य में उनकी कितनी मजबूत पकड़ है. टीएमसी की बड़ी जीत के बाद ममता बनर्जी ने अब कहा है कि लोग शांति बनाए रखें. नंदीग्राम से हुई हार को लेकर उन्होंने कहा कि हार-जीत होती रहती है, लेकिन तमाम लोगों से मैं अपील करती हूं कि वो शांतिपूर्वक रहें. अगर किसी ने हिंसा की, तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी. ममता ने जीत की बधाई के लिए पीएम मोदी का फोन नहीं आने का भी जिक्र किया.

नंदीग्राम में हुई धांधली- ममता

ममता बनर्जी ने जीत के बाद मीडिया के सामने कहा कि बीजेपी हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला कर रही है. ममता बनर्जी ने कहा कि,

नंदीग्राम में चुनाव आयोग दोबारा वोटों की गिनती क्यों नहीं कर रहा है? ममता ने कहा कि, नंदीग्राम में वोटों की फॉरेंसिंक जांच होनी चाहिए. ईवीएम से वोटों में गड़बड़ी की गई. नंदीग्राम के रिटर्निंग ऑफिसर पर दबाव बनाया गया. उन्होंने कहा कि बदला लेने में मैं भरोसा नहीं करती हूं.

शाम 7 बजे राज्यपाल से मुलाकात

ममता बनर्जी ने कहा कि, बंगाल एक बार फिर शांति, समृद्धि की ओर जाएगा. बंगाल में हर किसी का सम्मान होगा. इसके अलावा उन्होंने कहा कि सभी पत्रकार कोविड वॉरियर्स की तरह हैं, इसीलिए मैं उन्हें कोरोना वॉरियर घोषित करती हूं. ममता ने ये भी बताया कि वो शाम 7 बजे राज्यपाल से मिलने जा रही हैं और वहां सरकार बनाने का दावा पेश करेंगीं.

ममता ने बताया कि उन्हें तमाम विपक्षी दलों के नेताओं ने जीत की बधाई देने के लिए फोन किया, लेकिन ये पहली बार हुआ कि एक प्रधानमंत्री ने जीत की बधाई को लेकर फोन नहीं किया. 

ममता बनर्जी ने वैक्सीन को लेकर केंद्र सरकार को सलाह भी दी. ममता ने कहा कि केंद्र सरकार पूरे देश में यूनिवर्सल वैक्सीन के लिए 30 हजार करोड़ रुपये आवंटित करे. उन्होंने कहा कि, मुझे जानकारी मिली है कि वो सिर्फ 2-3 राज्यों को ही ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन और ऑक्सीजन दे रहे हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!