लखीमपुर हिंसा: पुलिस पूछताछ के लिए नहीं पहुंचे आशीष मिश्र, अब मंत्री ने दी सफाई

केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र ने बेटे के हवाले से दिया जवाब, पुलिस ने दूसरा नोटिस किया है जारी
क्विंट हिंदी
पॉलिटिक्स
Published:

लखीमपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी हैं आशीष मिश्र

|

(फोटो: Altered by Quint)

<div class="paragraphs"><p>लखीमपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी हैं आशीष मिश्र</p></div>

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri violence) में किसानों को अपनी गाड़ी के नीचे रौंदने के आरोपी और केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्र (Ashish Mishra) को एक बार फिर नोटिस जारी किया गया है. यूपी पुलिस की तरफ से 7 अक्टूबर को उन्हें नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए बुलाया गया था, लेकिन वो नहीं पहुंचे. अब आशीष मिश्र के पिता और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र ने इस पर जवाब दिया है.

केंद्रीय मंत्री ने दिया जवाब

केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र ने कहा है कि उनके बेटे की तबीयत कुछ ठीक नहीं थी, इसलिए वो पुलिस स्टेशन पूछताछ के लिए हाजिर नहीं हो पाए. उन्होंने कहा,

"मेरे बेटे को कल समन जारी किया गया था, लेकिन स्वास्थ्य कारणों के चलते वो पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट नहीं कर पाया. लेकिन अब वो कल वहां रिपोर्ट करेगा."

हालांकि केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्र इस घटना के बाद से ही लगातार हर चैनल को इंटरव्यू देते नजर आ रहे हैं. वो कैमरे के सामने ये कहते हुए दिख रहे हैं कि किसानों ने उपद्रव किया और उनके ड्राइवर पर हमला बोल दिया. साथ ही ये भी दावा कर रहे हैं कि वो मौके पर नहीं थे, जिस बात के उनके पास सबूत हैं.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद हरकत में पुलिस

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने जैसे ही मामले का संज्ञान लिया और यूपी सरकार से पूछा कि अब तक कितने लोग गिरफ्तार हुए हैं... तो इसके तुरंत बाद यूपी पुलिस ने आनन-फानन में कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. जब पूछा गया कि मंत्री जी के बेटे का क्या हुआ तो पुलिस ने नोटिस की बात सामने रख इससे पल्ला झाड़ लिया.

यानी पुलिस केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के बेटे आशीष मिश्र को खुद गिरफ्तार नहीं कर रही है. नोटिस जारी कर उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया जा रहा है. अब सवाल ये है कि पूछताछ के लिए हाजिर होने के बाद क्या मंत्री के बेटे की गिरफ्तारी होगी? क्योंकि तमाम किसान नेता और पीड़ित परिवारों की यही मांग है कि आशीष मिश्र को गिरफ्तार किया जाए.

यूपी सरकार की कार्रवाई से खुश नहीं कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने भी एक बार फिर मामले की सुनवाई करते हुए यूपी सरकार को जमकर फटकार लगाई है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इस मामले में जो भी कार्रवाई हुई है वो पर्याप्त नहीं है. वहीं किसान नेता राकेश टिकैत ने भी केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे और उनके बेटे की गिरफ्तारी की मांग की है, साथ ही चेतावनी दी है कि 12 अक्टूबर तक उनकी मांगे पूरी होनी चाहिए.

बता दें कि लखीमपुर खीरी में बीजेपी नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को तीन तेज रफ्तार गाड़ियों ने रौंद दिया. इस पूरी घटना में किसानों समेत कुल 8 लोगों की मौत हुई. जिन गाड़ियों से किसानों को कुचला गया वो आशीष मिश्र के काफिले की थी. किसानों का आरोप है कि इस दौरान मंत्री का बेटा खुद भी गाड़ी में मौजूद था. साथ ही उस पर फायरिंग के भी आरोप हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: undefined

SCROLL FOR NEXT