ADVERTISEMENTREMOVE AD

Fact Check: बॉलीवुड सेलेब्रिटीज की एडिटेड तस्वीरों वाला कोलाज फेक दावे से शेयर

कोलाज में इस्तेमाल तस्वीरें 2018 की हैं. तब बॉलीवुड ने कठुआ गैंग रेप मामले को लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया था.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

सोशल मीडिया पर कई बॉलीवुड (Bollywood) सेलेब्रिटीज का हाथ में एक प्लेकार्ड पकड़े कोलाज वायरल हो रहा है. इस प्लेकार्ड में लिखा है 'Boycott People'. कोलाज में स्वरा भास्कर, विशाल डडलानी और बादशाह जैसी बॉलीवुड हस्तियां दिख रही हैं.

हाल में लाल सिंह चड्ढा, रक्षाबंधन, शमशेरा जैसी फिल्मों के बॉयकॉट ट्विटर पर ट्रेंड हो रहा था. इसके बाद, अब शाहरुख खान की आने वाली फिल्म 'पठान' और करन जौहर की फिल्म 'लाइगर' के बॉयकॉट की भी मांग की जा रही है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
हाल में ही अक्षय कुमार और अर्जुन कपूर ने बॉयकॉट कल्चर पर बोला था कि ये सही नहीं है. अक्षय कुमार ने कहा था कि इससे इकॉनमी पर असर पड़ता है. वहीं अर्जुन कपूर ने बॉयकॉट पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि हमने चुप रहकर गलती की. लेकिन, कुछ लोगों ने इसका फायदा उठाना शुरू कर दिया है.

हालांकि, जब हमने पड़ताल की तो पाया कि वायरल कोलाज एडिटेड है. ये तस्वीरें साल 2018 की है. तब जम्मू-कश्मीर में कठुआ गैंगरेप के खिलाफ इन सेलेबिट्रीज ने अपना गुस्सा जाहिर किया था और प्लेकार्ड में ऐसी घटनाओं के खिलाफ लिखा था.

0

दावा

कोलाज को #BoycottBollywood के साथ शेयर किया जा रहा है. साथ ही, वायरल कोलाज के नीचे कटाक्ष भरे अंदाज में 'Bollywood Strikes Back' लिखा हुआ है. यानी ये कहने की कोशिश की जा रही है कि बॉयकॉट के खिलाफ बॉलीवुड ने हमला शुरू कर दिया है.

कोलाज में इस्तेमाल तस्वीरें 2018 की हैं. तब बॉलीवुड ने कठुआ गैंग रेप मामले को लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया था.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

वायरल कोलाज को फेसबुक और ट्विटर दोनों जगह कई यूजर्स ने शेयर किया है. इनके आर्काइव आप यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पड़ताल में हमने क्या पाया

हमने गूगल पर वायरल कोलाज को रिवर्स इमेज सर्च किया. हमें Anshul Saxena नाम के एक फेसबुक यूजर की 6 जून 2019 की एक पोस्ट मिली, जिसमें इसी कोलाज का इस्तेमाल किया गया था.

कोलाज में इस्तेमाल तस्वीरें 2018 की हैं. तब बॉलीवुड ने कठुआ गैंग रेप मामले को लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया था.

ये पोस्ट 6 जून 2019 को की गई थी

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

इस कोलाज में दिख रहे एक्टर्स के हाथों में जो प्लेकार्ड है, उसमें भले एक-दूसरे से अलग-अलग वाक्य लिखे हुए हों, लेकिन इसे पढ़कर ये साफ समझ आता है कि इसमें जम्मू-कश्मीर में हुए कठुआ गैंगरेप की बात की गई है और इस घटना के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया गया है.

यहां से क्लू लेकर हमने जरूरी कीवर्ड की मदद से गूगल पर सर्च किया. हमें क्विंट हिंदी पर 15 अप्रैल 2018 को पब्लिश एक रिपोर्ट मिली.

कोलाज में इस्तेमाल तस्वीरें 2018 की हैं. तब बॉलीवुड ने कठुआ गैंग रेप मामले को लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया था.

ये खबर 15 अप्रैल 2018 को पब्लिश हुई थी.

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/क्विंट हिंदी)

रिपोर्ट के मुताबिक, जम्मू के कठुआ में एक 8 साल की बच्ची के गैंगरेप की घटना के खिलाफ बॉलीवुड से जुड़े लोगों ने प्लेकार्ड पकड़कर अपना विरोध जताया था. वायरल कोलाज में से कुछ तस्वीरें इस रिपोर्ट में भी इस्तेमाल की गईं थीं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

हमें News 18 और Filmfare की वेबसाइट पर भी इस 'प्लेकार्ड' विरोध को लेकर रिपोर्ट्स मिलीं.

कोलाज में जो बॉलीवुड हस्तियां दिख रही हैं, वो हैं आहना कुमरा, स्वरा भास्कर, गुल पनाग, हुमा कुरैशी, बादशाह और कल्कि कोचलिन, मिनि माथुर और विशाल डडलानी. हमें इनके साल 2018 के सोशल मीडिया पोस्ट भी मिले, जिनमें वही तस्वीरें हैं जिनका वायरल कोलाज में इस्तेमाल किया गया है.

आप उनमें से कुछ तस्वीरों की तुलना नीचे देख सकते हैं.

(नोट: तस्वीरें देखने के लिए दाईं ओर स्वाइप करें)

  • वायरल फोटो से सेलिब्रिटी की फोटो की तुलना

    (सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

ऊपर तस्वीरों में देखा जा सकता है कि एक्टर्स और सेलेब्रिटीज की फोटो को एडिट कर कोलाज बनाया गया है. बस फर्क इतना है कि ओरिजिनल तस्वीरों में जो प्लेकार्ड है उसे एडिट कर Boycott People लिख दिया गया है.

मतलब साफ है कि वायरल कोलाज एडिटेड है, जिसे इस नैरेटिव से शेयर किया जा रहा है कि बॉलीवुड ने फिल्म देखने वाले दर्शकों को धमकी दी है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×