ADVERTISEMENTREMOVE AD

Budget 2022 : कपड़े-जूते से लेकर मोबाइल तक, बजट में क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने भाषण में कस्टम ड्यूटी, इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाए और घटाए जाने की बात कही.

Updated
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

व‍ित्‍त मंत्री न‍िर्मला सीतारमण ने आज एक फरवरी को संसद में आम बजट (Budget) पेश कर दिया है. उनके बजट पेश करते ही देश में अब कुछ चीजें महंगी हो जाएंगी और कुछ चीजों की कीमतों में कमी आएगी. आइए जानते हैं कि आम बजट के बाद अब देश में कौन सी चीजें महंगी मिलेंगी और किन चीजों के दामों में कटौती आएगी.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या हुआ सस्ता

वित्त मंत्री ने बजट 2022 में घोषणा की है कि जूते-चप्पल,चमड़े का सामान,खेती के उपकरण,पैकेजिंग के डिब्बे, मोबाइल फोन चार्जर और हीरे की ज्वेलरी सस्ती होगी. हीरे की ज्वेलरी सस्ती होगी पर कस्टम ड्यूटी को घटाकर 5 फीसदी कर दिया गया है. कट और पॉलिश्ड डायमंड पर भी कस्टम ड्यूटी घटाकर 5 फीसदी कर दी गई है. एमएसएमई को मदद मुहैया कराने के लिए स्टील स्क्रैप पर कस्टम ड्यूटी छूट को 1 साल के लिए बढ़ा दिया गया है. मेंथा ऑयल पर कस्टम ड्यूटी को घटाया गया. मोबाइल फोन के चार्जर, ट्रांसफॉर्मर आदि पर कस्टम ड्यूटी में छूट दी गई है,पेट्रोलियम उत्पादों के लिए आवश्यक रसायनों पर कस्टम ड्यूटी.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने भाषण में कस्टम ड्यूटी, इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाए और घटाए जाने की बात कही.
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने भाषण में कस्टम ड्यूटी, इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाए और घटाए जाने की बात कही.
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने भाषण में कस्टम ड्यूटी, इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाए और घटाए जाने की बात कही.
0

क्या महंगा हुआ

कैपिटल गुड्स पर आयात शुल्क में छूट को खत्म करते हुए 7.5 फीसदी आयात शुल्क लगा दिया गया है. इमिटेशन ज्वैलरी पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाई गई, विदेशी छाता भी महंगा होगा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने भाषण में कस्टम ड्यूटी, इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाए और घटाए जाने की बात कही.
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने भाषण में कस्टम ड्यूटी, इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाए और घटाए जाने की बात कही.

आयातित वस्तुएं जो महंगी हो जाएंगी, उनमें अम्ब्रेला, इमिटेशन ज्वैलरी, सिंगल या मल्टीपल लाउडस्पीकर, हेडफोन और ईयरफोन, स्मार्ट मीटर, सोलर सेल, सोलर मॉड्यूल, एक्स-रे मशीन, इलेक्ट्रॉनिक खिलौनों के पुर्जे शामिल हैं

क्या होती है कस्टम ड्यूटी?

कस्टम ड्यूटी की बात करें तो यह एक तरह का टैक्स है, जो उन सामानों पर लगता है, जो आयात या निर्यात किए जाते हैं. जब कोई सामान विदेश से भारत में आता है तो उस पर कई तरह के शुल्क वसूले जाते हैं. कस्टम ड्यूटी को देशों द्वारा अपना राजस्व बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. इसकी रेट हर सामान के हिसाब से अलग अलग होती है

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×