ADVERTISEMENTREMOVE AD

Govt saving schemes: शेयर बाजार कर रहा निराश तो इन 6 स्कीमों में लगाइए पैसा

saving schemes: सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड, सेविंग बॉन्ड, सुकन्या समृद्धि योजना, नेशनल पेंशन स्कीम, पर्सनल प्रोविडेंट फंड.

Updated
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

इस समय शेयर मार्केट (Share Market) कई लोगों को निराश कर रहा है, कई लोग निवेश शुरू करना चाहते हैं लेकिन शेयर मार्केट के रिस्क से दूर रहकर. तो ऐसे में सरकारी स्कीम्स (Govt Saving Scheme) बुरी नहीं है बल्कि रिटर्न अच्छा है और निवेश सुरक्षित है. तो आज हम आपको ऐसी सरकारी सुरक्षित स्कीम्स के बारे में बता रहे हैं. इस वीडियो में हम आपको आपकी बीमा, 4 नए IPO और निवेश की सलाहकारों पर एक चेतावनी भी देंगे. लेकिन पहले सेविंग के सात सरकारी स्कीम.

0

सॉवरिन गोल्ड बॉन्ड

इसे RBI जारी करता है. इस दौरान निवेशक को प्रतिवर्ष 2.5% के फिक्स्ड रेट के हिसाब से ब्याज म‍िलता है. ब्याज का भुगतान हर 6 महीने में किया जाता है. इसमें निवेश की अवधि वैसे तो 8 साल है लेकिन जरूरत पड़ने पर 5 साल पूरा होने के बाद भी पैसा निकाला जा सकता है. इसके अलावा आप इसे डिमैट के जरिए भी सेकंडरी मार्केट में खरीद-बेच सकते हैं.

RBI की फ्लेक्सी सेविंग बॉन्ड स्कीम्स

इसमें निवेश करने पर अगर ब्याज दरें बढ़ती हैं तो आपको भी फायदा मिलेगा. इसमें पैसा जमा करने की कोई लिमिट नहीं है. हर 6 महीने में ब्याज दर बढ़ती है और 6 महीने पर ब्याज मिलता है. 1000 रुपए के मिनिमम अमाउंट से आप निवेश शुरू कर सकते हैं. इसमें टीडीएस कटता है यानी आप टैक्स में फायदा उठा सकते हैं.

सुकन्या समृद्धि योजना

अगर आपके घर में कोई 10 साल से छोटी लड़की हो तो इसमें जरूर निवेश करें. आप इसमें 10 साल के लिए निवेश करते हैं. इसे आप पोस्ट ऑफिस के जरिए खुलवा सकते हैं. इसमें अधिकतम 1.5 लाख का निवेश कर सकते हैं. ब्याज दर बढ़ने पर आपको भी लाभ होगा और टैक्स में भी छूट मिलेगी. यानी आपकी बेटी जब 19-20 साल की हो जाती है तब आपको एक लंपसम अमाउंट मिलता है.

नेशनल पेंशन स्कीम्स

कोई भी व्यक्ति सरकारी कर्मचारी हो या ना हो, कोई भी आम आदमी अपने वर्किंग लाइफ के दौरान पेंशन अकाउंट में नियमित रूप से निवेश कर सकता है. जमा हुए फंड के एक हिस्से को वह एक बार में निकाल भी सकता है और बची हुई राशि का इस्तेमाल रिटायरमेंट के बाद नियमित पेंशन हासिल करने के लिए कर सकता है. व्यक्ति के निवेश और उस पर मिलने वाले रिटर्न से NPS अकाउंट बढ़ता है. NPS से फाइनल विड्रॉल पर 60% रकम टैक्‍स फ्री है. टैक्स पर छूट भी मिलती है तो ऐसी स्कीम में जरूर पैसा लगा सकते हैं

पर्सनल प्रोविडेंट फंड

PPF का अकाउंट का आप 500 रुपए से खोल सकते हैं. पीपीएफ में आप एक वित्त वर्ष तक 1.5 लाख रुपए जमा कर सकते हैं. पीपीएफ में निवेश 15 साल की अवधि के लिए किया जाता है लेकिन फायदा ये है कि निवेश के तीन साल बाद आप अपने पीपीएफ अकाउंट पर लोन ले सकते हैं. इसमें टैक्स छूट का फायदा मिलता है. इसमें आप बैंक और पोस्ट ऑफिस के जरिए अकाउंट खुलवाकर निवेश कर सकते हैं.

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट

NSC में कम से कम 1000 रुपए का निवेश करना होता है. लेकिन कोई ऊपरी लिमिट नहीं है. एनएससी में 5 साल के लिए निवेश होता है और इससे पहले आप पैसा नहीं निकाल सकते. इसे आप बैंक और पोस्ट ऑफिस के जरिए अकाउंट खुलवाकर निवेश कर सकते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

अब इस हफ्ते बिजनेस और कारोबार की दुनिया से आईं आपके काम की कुछ खास बातें-

  • अगर आपको बीमा लेना है तो बीमा सेक्टर को रेगूलेट करने वाला IRDAI एक पोर्टल ला रहा है...नाम होगा बीमा सुगम...इसपर आप पॉलिसी खरीद बेच पाएंगे. यहां एजेंट से लेकर क्लेम तक की जानकारी मिलेगी

  • आईपीओ में पैसा लगाना चाहते हैं तो इस हफ्ते इस हफ्ते चार आईपीओ लॉन्च हो रहे हैं, ग्लोबल हेल्थ लिमिटेड, जो मेदांता ब्रांड के तहत अस्पतालों का संचालन करती है. इसके अलावा माइक्रो फाइनेंस लेंडर फ्यूजन माइक्रो फाइनेंस लिमिटेड. फिर केबल और वायर हार्नेस असेंबलियों के निर्माता डीसीएक्स सिस्टम्स और बीकाजी फूड्स इंटरनेशनल भी अपना आईपीओ ला रहे हैं.

  • और अगर हर ऐरे गैरे नत्थू खैरे से निवेश को लेकर सलाह लेते हैं तो संभल जाइए..सेबी ने ऐसी चार संस्थाओं और लोगों पर तीन साल के लिए बैन लगा दिया है. ये हैं- इनोवेटिव रिसर्च, प्रोपराइटर हसमुख मालवी और इनोवेटिव फाइनेंशियल रिसर्च और इसके प्रोपराइटर राजा सिंह

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×