भारतीय विक्रेताओं का एक्सपोर्ट 200 करोड़ डॉलर से ज्यादा हुआ: अमेजन

भारतीय एक्सपोर्टर्स का सबसे बड़ा बाजार कहां है?

Published
बिजनेस
2 min read
भारतीय एक्सपोर्टर्स का सबसे बड़ा बाजार कहां है?
i

अमेजन का भारत के छोटे और मध्यम विक्रेताओं से कुल एक्सपोर्ट 200 करोड़ डॉलर से ज्यादा का हो गया है. ये एक्सपोर्ट कंपनी के ग्लोबल बाजारों तक प्रोडक्ट्स को पहुंचाने वाले एक प्रोग्राम के तहत किया जाता है. रॉयटर्स की रिपोर्ट में अमेजन के दो एग्जीक्यूटिव के जरिए इस बात की जानकारी दी गई.

अमेजन का ‘ग्लोबल सेलिंग’ प्रोग्राम 2015 में भारत में लॉन्च हुआ था. अमेजन के लिए भारत एक अहम बाजार है. रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी ने बताया है कि प्रोग्राम के जरिए 60,000 से ज्यादा भारतीय विक्रेता 15 अमेजन वेबसाइट पर प्रोडक्ट्स एक्सपोर्ट कर पाए हैं.  

जनवरी में अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस ने अपनी भारत यात्रा के दौरान कहा था कि कंपनी भारत के छोटे और मध्यम बिजनेसों को डिजिटाइज करने में 100 करोड़ डॉलर का निवेश करेगी. इसके अलावा बेजोस ने कहा था कि 2025 तक अमेजन के 1000 करोड़ डॉलर के भारतीय सामान को एक्सपोर्ट करने की उम्मीद है.

मौजूदा एक्सपोर्ट का आंकड़ा भारत के सामान और सेवाओं के एक्सपोर्ट का एक बहुत छोटा हिस्सा ही है. रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, 31 मार्च को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में देश का कुल एक्सपोर्ट करीब 53000 करोड़ डॉलर रहा.

पहले सौ करोड़ डॉलर का आंकड़ा छूने में हमें तीन साल लगे थे, आज हमने अगले सौ करोड़ डॉलर को पार किया है, पिछले 18 महीनों में 100% ग्रोथ हुई है. 
गोपाल पिल्लई, रॉयटर्स से फोन बातचीत में अमेजन इंडिया के सेलर सर्विस के वाइस प्रेजिडेंट 

अमेजन इससे पहले कह चुका है कि उसने छोटे विक्रेताओं को सस्ते लोन दिलाने के लिए भारतीय बैंक से टाईअप किया है.

भारतीय एक्सपोर्टर्स का सबसे बड़ा बाजार कहां है?

अमेजन इंडिया के ग्लोबल ट्रेड हेड अभिजीत कामरा ने बताया कि कंपनी के भारतीय एक्सपोर्टर्स का सबसे बड़ा बाजार अमेरिका है. कामरा ने कहा कि अमेरिका में ब्लैक फ्राइडे, साइबर मंडे और कंपनी के प्राइम डे जैसे इवेंट बिक्री में बूस्ट देते हैं.

कामरा ने बताया कि कई प्रोडक्ट केटेगरी में एक्सपोर्ट बढ़ा है लेकिन कपड़े, ज्वेलरी, होम आइटम और लेदर प्रोडक्ट्स सबसे ज्यादा बिकते हैं.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!