भारती एयरटेल के सामने रेटिंग डाउनग्रेडिंग का खतरा
भारतीय एयरटेल को सामने डाउनग्रेडिंग का खतरा 
भारतीय एयरटेल को सामने डाउनग्रेडिंग का खतरा फोटो : ब्लूमबर्ग  

भारती एयरटेल के सामने रेटिंग डाउनग्रेडिंग का खतरा

मूडीज भारती एयरटेल की रेटिंग डाउनग्रेड कर सकती है. कंपनी की मुनाफा में गिरावट और कैश फ्लो की उम्मीदें कमजोर दिखने के बाद मूडीज की ओर से इसकी रेटिंग कैटगरी घटाई जा सकती सकती है. मूडीज ने कहा कि कंपनी की रेटिंग Baa3 है और इसमें और डाउनग्रेडिंग इसे स्पक्यूलेटिव ग्रेड में डाल सकती है.

मूडीज की ओर से इसके वाइस प्रेसिडेंट और सीनियर क्रेडिट ऑफिसर अनालिसा डिसियारा ने कहा

भारती के कैश फ्लो में कमी की आशंका बनी हुई है. साथ ही मुनाफे में भी गिरावट की आशंका है. इस वजह से क्रेडिट रेटिंग में डाउनग्रेडिंग हो सकती है.  

कोर मोबाइल ऑपरेशन से घटता जा रहा है कंपनी का मुनाफा

भारत में कोर मोबाइल ऑपरेशन से कंपनी का मुनाफा कम हो रहा है. निगेटिव फ्री कैश फ्लो और ज्यादा कर्ज की वजह से कंपनी को नए कर्ज लेने में दिक्कत आ रही है. मौजूदा रिव्यू में कहा गया है कि भारत में अभी टेलीकम्यूनिकेशन मार्केट में बहुत ज्यादा संतुलित कंपीटिशन की उम्मीद नहीं दिख रही है. अगले एक-डेढ़ साल में कंपनी के मुनाफे, कैश फ्लो सिचुएशन और कर्ज स्तर सुधरने की कोई उम्मीद नहीं दिखती.

उबरने के लिए भारतीय बाजार से उम्मीद

अगले रिव्यू के लिए मूडी कंपनी के कमिटमेंट और प्लान पर गौर करेगी. एजेंसी इस बात पर गौर करेगी कि कंपनी का प्लान किस हद तक सफल हो सकेगा. कंपनी के अफ्रीकी बिजनेस के प्री-आईपीओ से हासिल 1.25 अरब डॉलर की रकम से कर्ज चुकाने में मदद मिलेगी. सितंबर में खत्म हुई तिमाही में भारती का कंसोलिडेटेड नेट डेट 1.13 लाख करोड़ रुपये था. इसकी पिछली तिमाही में यह कर्ज 1.02 लाख करोड़ रुपये था.

मूडीज ने भारती के लिए चुनौतियों की चर्चा की है.भारती अपने मौजूदा हाल में सुधार के लिए काफी हद अपने भारतीय ऑपरेशन्स पर निर्भर है. अगर उसे अपने ग्रेडिंग में सुधार करना है तो उसे वित्तीय तौर पर मजूबत होना होगा. इंडियन मार्केट में टेलीकॉम कंपनियों में चल रही प्राइस वॉर का भारती एयरटेल के मुनाफे पर काफी असर पड़ा है.

इनपुट : ब्लूमबर्गक्विंट

ये भी पढ़ें : एचडीएफसी बैंक,टीसीएस,रिलायंस जियो-ये हैं देश के 10 टॉप ब्रांड्स

(यहां क्लिक कीजिए और बन जाइए क्विंट की WhatsApp फैमिली का हिस्सा. हमारा वादा है कि हम आपके WhatsApp पर सिर्फ काम की खबरें ही भेजेंगे.)

Follow our बिजनेस न्यूज section for more stories.

    वीडियो