World Bank का आकलन,7.3 फीसदी के साथ सबसे तेज बढ़ेगी भारत की GDP
वर्ल्ड बैंक का कहना  है कि भारत सबसे तेज रफ्तार अर्थव्यवस्था बनेगी  रहेगी
वर्ल्ड बैंक का कहना  है कि भारत सबसे तेज रफ्तार अर्थव्यवस्था बनेगी  रहेगी(फोटो: iStock)

World Bank का आकलन,7.3 फीसदी के साथ सबसे तेज बढ़ेगी भारत की GDP

अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर विश्व बैंक ने भारत के लिए अच्छी खबर दी है. उसके अनुमान के मुताबिक, भारत की जीडीपी वित्त वर्ष 2018-19 में 7.3 फीसदी, जबकि इसके अगले दो सालों में 7.5 फीसदी की दर से बढ़ेगी. इसके साथ ही वर्ल्ड बैंक ने कहा है कि भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बना रहेगा.

चीन के मुकाबले भारत की विकास दर

वर्ल्ड बैंक ने मंगलवार को ग्लोबल इकनॉमिक प्रोसपेक्ट्स रिपोर्ट जारी की. इस रिपोर्ट के मुताबिक, 2019 और 2020 में चीन की आर्थिक विकास दर 6.2, जबकि 2021 में 6 फीसदी रहने का अनुमान है. 2018 में भारत की आर्थिक विकास दर (7.3 फीसदी) के मुकाबले चीन की विकास दर के 6.5 फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया.

इससे पहले 2017 में आर्थिक विकास दर के मामले में चीन (6.9 फीसदी) भारत (6.7) से थोड़ा आगे रहा था. रिपोर्ट के मुताबिक, इसके पीछे की मुख्य वजह भारत में नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के लागू होने से अर्थव्यवस्था में आई मंदी रही.

'अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर भारत ने किया प्रभावित'

चुनावी साल में मोदी सरकार के आर्थिक प्रदर्शन पर बयान देने से बचते हुए वर्ल्ड बैंक के अधिकारी ने कहा कि दूसरी उभरती अर्थव्यवस्थाओं के मुकाबले भारत का प्रदर्शन प्रभावित करने वाला रहा है.

सीएसओ ने लगाया यह अनुमान

हाल ही में सीएसओ ने वित्त वर्ष 2018-19 में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था की ग्रोथ रेट 7.2 फीसदी रहने का अनुमान लगाया था. उसने एग्रीकल्चर और मेन्युफैक्चरिंग सेक्टर में बेहतर ग्रोथ को इसकी मुख्य वजह बताया था.

2018-19 में मेनुफैक्चरिंग सेक्टर में ग्रोथ रेट 8.3 फीसदी रहने का अनुमान है. हालांकि कुछ अर्थशास्त्रियों का कहना है कि कमजोर उपभोग और कर्ज मांग में मंदी की वजह से भारत की इकॉनमी ग्रोथ रेट पर असर पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें : सीएसओ का अनुमान 2018-19 में ग्रोथ रेट 7.2 फीसदी रहने की उम्मीद

(पहली बार वोट डालने जा रहीं महिलाएं क्या चाहती हैं? क्विंट का Me The Change कैंपेन बता रहा है आपको! Drop The Ink के जरिए उन मुद्दों पर क्लिक करें जो आपके लिए रखते हैं मायने.)

Follow our बिजनेस न्यूज section for more stories.

    वीडियो