न मांग, न निवेश, क्या आसमान से गिरेगा विकास: राहुल बजाज
बजाज ऑटो के चेयरमैन राहुल बजाज ने केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों पर निशाना साधा 
बजाज ऑटो के चेयरमैन राहुल बजाज ने केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों पर निशाना साधा (फोटो : Reuters)

न मांग, न निवेश, क्या आसमान से गिरेगा विकास: राहुल बजाज

ऑटो सेक्‍टर की टॉप कंपनियों में शुमार बजाज ऑटो के चेयरमैन राहुल बजाज ने केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों पर निशाना साधा है. इसके साथ ही उन्‍होंने ऑटो इंडस्‍ट्री के बिगड़ते हालात पर भी चिंता जाहिर की है. बजाज ऑटो की सालाना आम बैठक में शेयरधारकों को संबोधित करते हुए राहुल बजाज ने कहा कि मुश्किल हालातों से गुजर रहे ऑटो सेक्टर के लिए क्या विकास आसमान से गिरेगा?

Loading...

ये भी पढ़ें: इकनॉमी को और बड़ा झटका,जीडीपी ग्रोथ रेट गिर कर 5 फीसदी पर पहुंचा

ये भी पढ़ें : सऊदी अरामको ने कहा-रिलायंस के साथ बातचीत अभी बेहद शुरुआती दौर में 

‘’ऑटो सेक्टर बेहद मुश्किल हालात से गुजर रहा है. कार, कमर्शियल व्हीकल्स और टू-व्हीलर्स सेग्‍मेंट की हालत ठीक नहीं है. कोई मांग नहीं है और कोई निजी निवेश भी नहीं है, तो ऐसे में विकास कहां से आएगा? क्‍या विकास आसमान से गिरेगा? ‘’
-राहुल बजाज (बजाज ऑटो की सालाना आम बैठक में)  

'विकास में कमी आई है'

देश के बड़े उद्योगपतियों में गिने जाने वाले राहुल बजाज ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, ''सरकार कहे या न कहे लेकिन आईएमएफ और वर्ल्ड बैंक के आंकड़े बताते हैं कि पिछले तीन-चार सालों में विकास में कमी आई है. दूसरी सरकारों की तरह वे अपना हंसता हुआ चेहरा दिखाना चाहते हैं, लेकिन सच्चाई यही है."

ये भी पढ़ें- मंदी पर मोहनदास पई का अलार्म,अभी नहीं जगे तो पछताएंगे: EXCLUSIVE

राजीव बजाज भी सरकार से नाखुश

इससे पहले राहुल बजाज के बेटे और कंपनी के एमडी राजीव बजाज ने भी इलेक्‍ट्रिक व्‍हीकल को लेकर मोदी सरकार की योजनाओं पर सवाल खड़े किए थे. आम बजट पेश होने के बाद एक इंटरव्‍यू में राजीव बजाज ने कहा था कि यह सरकार रातोंरात सबकुछ बदल देना चाहती है. इसके साथ ही राजीव बजाज ने सरकार से पूछा था कि अगर कल को ग्राहक इलेक्‍ट्रिक व्‍हीकल मॉडल स्वीकार नहीं करते हैं, तो ऑटो इंडस्‍ट्री का क्या होगा? क्‍या हम दुकान बंद कर, घर बैठ जाएं?

बुरे दौर में ऑटो इंडस्ट्री

पिछले कुछ समय से ऑटो इंडस्‍ट्री बुरे दौर से गुजर रही है.ऑटो कंपनियों के संगठन- सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (SIAM) के आंकड़ों के मुताबिक जून महीने में कारों की घरेलू बिक्री भी 24.97 फीसदी घटी है. जून में यह आंकड़ा 1,39,628 यूनिट्स का रहा, जो पिछले साल जून में 1,83,885यूनिट था. यह लगातार आठवां महीना है जब यात्री वाहनों की बिक्री में कमी दर्ज की गई. ये आंकड़े आने के बाद ऑटो इंडस्‍ट्री ने सरकार से इस गिरावट को रोकने और नौकरियों को सुरक्षित रखने के लिए ठोस नीतिगत उपाय करने का आग्रह किया है.

ये भी पढ़ें - सरकार ने किया साफ, अलग से नहीं लाएगी कोई ई-व्‍हीकल पॉलिसी

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our बिजनेस न्यूज section for more stories.

    Loading...