सत्या नडेला ने CAA पर कहा- ‘जो कुछ भी हो रहा है वो दुखद है’

सत्या नडेला मूल रूप से भारत में हैदाराबाद के रहने वाले हैं और 2014 से सॉफ्टवेयर माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ हैं

Published14 Jan 2020, 04:17 AM IST
बिजनेस न्यूज
2 min read

अमेरिका की मशहूर सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ ने भी अब नागरिकता संशोधन कानून पर अपनी राय रखी है. उन्होंने मैनहेटन में 13 जनवरी को एडिटर्स से बातचीत करते हुए कहा है कि ‘जो भी हो रहा है वो दुखद है.’

बजफीड के एडिटर-इन-चीफ बेन स्मिथ ने ट्वीट किया कि सत्या नडेला कहते हैं -

जो कुछ भी हो रहा है वो दुखद है.  ये बस बुरा है. मुझे ये देखकर खुशी होगी कि बांग्लादेश से आने वाला प्रवासी भारत में कोई बड़ी शानदार कंपनी बनाए या फिर इंफोसिस का अगला सीईओ बने. 
सत्या नडेला, सीईओ माइक्रोसॉफ्ट

सत्या नडेला मूल रूप से भारत में हैदाराबाद के रहने वाले हैं और 2014 से सॉफ्टवेयर माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ हैं. उनका बयान ऐसे मौके पर आया है जब भारत के कई हिस्सों में सीएए और एनआरसी का विरोध प्रदर्शन चल रहा है. उनकी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने भी बयान जारी कर कहा है कि

हर देश को अपनी सीमा तय करनी चाहिए. साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा और प्रवासी नीति को  अपने मुताबिक तय करना चाहिए. और लोकतंत्र में देश के लोग और उनकी सरकारें चर्चा करेंगी और उसे दायरों में रहकर परिभाषित करेंगी. मैं भारतीय विरासत में पला बढ़ा, बहुसांस्कृतिक भारत में बड़ा हुआ फिर मैंने अमेरिका में एक प्रवासी का अनुभव किया. मेरी भारत से आशा है कि वहां आकर एक प्रवासी एक बढ़िया स्टार्टअप शुरू करे या फिर बहुराष्ट्रीय कंपनी का नेतृत्व करे जो भारतीय समाज और अर्थव्यवस्था को फायदा पहुंचाए. 
माइक्रोसॉफ्ट

आपको बता दें कि दुनिया की नंबर वन माइक्रोसॉफ्ट कंपनी है. माइक्रोसॉफ्ट का फ्यूचर भी काफी ब्राइट दिखाई दे रहा है. छोटे-बड़े एंटरप्राइजेस अब अपनी डिजिटल जरूरतों को पूरा करने और उनकी सिक्योरिटी के लिए बेहतर क्लाउड सर्विस और सॉफ्टवेयर की मांग कर रहे हैं.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!