कोरोना ने निकाला कचूमर: जून तिमाही में देखिए 9 कंपनियों के नतीजे

रिलायंस, टाटा मोटर्स, सन फार्मा इंडियन ऑयल, SBI, इंडिगो जैसी दिग्गज कंपनियों के नतीजों का रीकैप

Published01 Aug 2020, 06:10 PM IST
बिजनेस
4 min read

भारतीय शेयर बाजार पर लिस्टेड ज्यादातर कंपनियों ने इस फाइनेंशियल ईयर की पहली तिमाही के अपने नतीजे पेश कर दिए हैं. अप्रैल-जून तिमाही वही पीरियड है जब कोरोना वायरस संकट शुरू होने के दौरान लॉकडाउन लगा था. अचानक आर्थिक गतिविधियां बंद पड़ गई थीं और पूरी इकनॉमी को झटका लगा था. इसलिए अगर आप इंडस्ट्री पर लॉकडाउन के असर को समझना चाहते हैं तो आपको इसलिए लिए बड़ी कंपनियों की पहली तिमाही के नतीजों पर नजर डालनी चाहिए.

हमने यहां पर मारुति सुजुकी, HUL, HDFC, रिलायंस, टाटा मोटर्स, सन फार्मा इंडियन ऑयल, SBI, इंडिगो जैसी दिग्गज कंपनियों के नतीजों का रीकैप किया है.

मारुति सुजुकी के लिए खराब तिमाही, 249 करोड़ का घाटा

देश की सबसे बड़ी ऑटो कंपनी को पहली तिमाही में 249 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है. कंपनी को पिछले साल इसी तिमाही में 1435 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था. हांलाकि बाजार के अनुमान के मुकाबले कंपनी ने बेहतर नतीजों का ऐलान किया है. लिस्टिंग के बाद से ये पहला मौका है जब कंपनी को इतना बड़ा नुकसान हुआ है. कंपनी की कार सेल्स भी काफी गिरी है. कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन लगा और पूरा बाजार बंद रहा. एक मौका तो ऐसा भी आया कि ऑटो कंपनियों ने अपनी मंथली सेल्स जीरो दिखाई. लेकिन अब लॉकडाउन जैसे-जैसे धीरे-धीरे खुल रहा है. ऑटो इंडस्ट्री में सुधार देखने को मिल रहा है. लोग पर्सनल व्हीकल को तरजीह दे रहे हैं. ऐसे में सेल्स और बढ़ने की उम्मीद है.

HUL के अच्छे नतीजे, मुनाफा 7.18% बढ़ा

दिग्गज FMCG कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड का मुनाफा 7.18% बढ़कर 1881 करोड़ रुपये पर आ गया है. पिछले साल की इसी तिमाही में HUL को 1775 करोड़ का मुनाफा हुआ था. कंपनी ने बाजार की उम्मीद से बेहतर नतीजे पेश किए हैं. खास बात ये है कि कंपनी 9.50 रुपये के डिविडेंट का भी ऐलान किया. लॉकडाउन लगने के बाद से किराना दुकानों को एसेंशियल आइटम में रखा गया और FMCG कंपनियों के उत्पादों की बिक्री पर खास असर नहीं पड़ा. इसलिए पहले से उम्मीद की जा रही थी HUL अच्छे नतीजे पेश करेगी.

HDFC का मुनाफा 5% गिरा लेकिन उम्मीद से बेहतर नतीजे

पहली तिमाही में HDFC का मुनाफा 5% गिरकर 3052 करोड़ रुपये हो गया. पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी को 3203 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था. बाजार के अनुमान से कंपनी ने बेहतर नतीजे पेश किए हैं. कंपनी की ब्याज से आय 10% बढ़कर 3392 करोड़ रुपये हो गई. HDFC के कई सारे ऑफिस लॉकडाउन लगने की वजह से बंद हो गए हैं. इससे भी कंपनी के बिजनेस पर असर पड़ा है.

रिलायंस का मुनाफा बढ़ा, आय पर पड़ी कोरोना की मार

देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 30 जुलाई को अपने पहली तिमाही के नतीजे जारी किए. कोरोना वायरस संकट के बाद फ्यूल की डिमांड घटने और रिफाइनिंग मार्जिन कम होने के बावजूद कंपनी के मुनाफे में 31% का इजाफा हुआ है. कंपनी का मुनाफा अब बढ़कर 13,233 करोड़ रुपये हो गया है. कंपनी के मुनाफा बढ़ने की सबसे बड़ी वजह ये है कि कंपनी को इस तिमाही में 4,966 करोड़ रुपये का एकमुश्त मुनाफा हुआ है. कंपनी की आय को कोरोना का झटका लगा है. आय पिछले साल के मुकाबले 44% गिरी है. इस तिमाही में कंपनी को 88,253 करोड़ रुपये की आय हुई है, उम्मीद जताई जा रही थी कि कंपनी को 1.03 लाख करोड़ रुपये की आय होगी.

टाटा मोटर्स 8,437 करोड़ रुपये का घाटा, लॉकडाउन इफेक्ट

ऑटो सेक्टर की बड़ी कंपनी टाटा मोटर्स को पहली तिमाही में 8,437 करोड़ रुपये का कंसोलिडेटेड घाटा हुआ है. पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी को 3698 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. कंपनी की ऑपरेशन से कुल आय 47% गिरकर 31,983 करोड़ रुपये रह गई है. टाटा मोटर्स का कहना है कोरोना वायरस को देखते हुए कंपनी का आउटलुक अभी अनिश्चित है.

सन फार्मा को 1656 करोड़ का घाटा

दिग्गज फार्मा कंपनी सन फार्मा को पहली तिमाही में 1656 करोड़ रुपयों का घाटा हुआ है, वहीं पिछले साल की पहली तिमाही में कंपनी को 1387 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था. कंपनी की आय पिछले साल इसी तिमाही में 8259 करोड़ रुपए के मुकाबले गिरकर 7467 करोड़ रुपये हो गई है.

इंडियन ऑयल का मुनाफा 40% गिरा, बिक्री घटी

पहली तिमाही में इंडियन ऑयल का मुनाफा पिछले साल के मुकाबले 40.2% गिरकर 2227 करोड़ रहा. पिछले साल कंपनी को इसी तिमाही में 3,738 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. कंपनी की आय भी 41% गिरकर 90,106 करोड़ रुपये हो गई. कंपनी ने बताया कि लॉकडाउन लगने की वजह से कंपनी की बिक्री पर बुरा असर पड़ा है. प्लांट में भी कैपेसिटी का पूरा इस्तेमाल नहीं किया गया. कंपनी का ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन भी गिरकर 1.98 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया. जबकि पिछले साल की इसी तिमाही में ये 4.69 डॉलर प्रति बैरल था.

SBI का मुनाफा 81% बढ़ा, ब्याज से कमाई भी बढ़ी

SBI का पहली तिमाही में मुनाफा पिछले साल की इसी तिमाही के मुकाबले 81% बढ़कर 4189 करोड़ रुपये हो गया है. कंपनी के इतने बड़े मुनाफे के पीछे 1540 करोड़ रुपये के एकमुश्त मुनाफा है. कंपनी ने बाजार के अनुमान से ज्यादा का मुनाफा दर्ज किया है. बैंक की ब्याज से कमाई 26,641 करोड़ रुपये रही. वहीं पिछले साल इसी तिमाही में कंपनी को ब्याज से 22,938 करोड़ रुपये की ब्याज से आय हुई थी.

इंडिगो की आय 91% गिरी, लॉकडाउन की बुरी मार

इंटरग्लोब एविएशन को पहली तिमाही में 2844 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है. वहीं पिछले साल इसी तिमाही में कंपनी को 1203 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था. कोरोना वायरस संकट के बाद लगे लॉकडाउन की मार इंडिगो की आय पर पड़ी है. कंपनी की ऑपरेशन से होने वाली आय 91% गिरकर 766 करोड़ रुपये हो गई है. पूरी की पूरी एविएशन इंडस्ट्री ही संकट के दौर से गुजर रही है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!