ADVERTISEMENT

दिल्ली में फिर पैर पसार रहा कोरोना, NCR में कई स्कूल बंद - बड़े अपडेट

दिल्ली में करीब दो साल बाद, 1 अप्रैल से ऑनलाइन क्लास को बंद करते हुए ऑफलाइन क्लास शुरू की गई थीं.

Published
दिल्ली में फिर पैर पसार रहा कोरोना, NCR में कई स्कूल बंद - बड़े अपडेट
i

कोरोना वायरस (COVID-19) गाइडलाइंस में छूट मिलने के साथ ही, दिल्ली-एनसीआर में महामारी एक बार फिर पैर पसारने लगी है. दिल्ली और इसके पड़ोसी इलाकों में कोविड के मामलों में तेजी देखी जा रही. खासतौर से स्कूलों में स्टूडेंट्स कोविड से संक्रमित पाए गए हैं.

ADVERTISEMENT
दिल्ली में करीब दो साल बाद, 1 अप्रैल से ऑनलाइन क्लास को बंद करते हुए ऑफलाइन क्लास शुरू की गई थीं.

कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए, दिल्ली सरकार के डायरेक्टोरेट ऑफ एजुकेशन ने 13 अप्रैल को सभी प्राइवेट स्कूलों को गाइडलाइन जारी करते हुए कहा है कि कोविड केस आने पर स्कूल तुरंत बंद कर दिया जाए.

  • स्कूल प्रशासन से महामारी के खिलाफ सभी एहतियात बरतने और SOP को फॉलो करने को कहा गया है.

  • स्कूल परिसर में मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो करने और नियमित हाथ धोने को कहा गया है.

  • अगर किसी स्कूल में कोविड केस सामने आता है तो, संबंधित विंग या पूरा स्कूल अस्थायी रूप से बंद कर दिया जाए.

  • स्कूल में कोविड का मामला सामने आने के बाद डायरेक्टोरेट ऑफ एजुकेशन को तुरंत जानकारी दी जाए.

दिल्ली में 14 अप्रैल को कोविड के 325 मामले सामने आए, वहीं, 13 अप्रैल को 299 मामले देखे गए थे.

दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद के कई स्कूलों में आए केस

14 अप्रैल को, दिल्ली के वसंत कुंज में एक प्राइवेट स्कूल में दो टीचर और पांच बच्चे कोविड पॉजिटिव पाए गए.

13 अप्रैल को, गाजियाबाद के जयपुरिया स्कूल में 10वीं का एक स्टूडेंट कोविड पॉजिटिव पाया गया था, जिसके बाद एहतियात के तौर पर क्लास को रोक दिया गया था. गाजियाबाद का केआर मंगलम स्कूल भी कोविड मामला सामने आने के बाद ऑफलाइन बंद कर दिया गया है.

13 अप्रैल को, गौतमबुद्ध नगर के एक स्कूल में 10 बच्चे कोविड संक्रमित पाए गए.

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, नोएडा के खैतान स्कूल में करीब 13 स्टूडेंट्स पिछले हफ्ते कोविड पॉजिटिव पाए गए थे. नोएडा के सेंट फ्रांसिस स्कूल में भी पॉजिटिव कोविड केस का मामला सामने आया है.

ADVERTISEMENT

क्या कर रहा प्रशासन?

दिल्ली सरकार ने प्राइेट स्कूलों के लिए गाइडलाइंस जारी की हैं. वहीं, दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) कोरोना मामलों में वृद्धि और बीमारी के प्रसार को रोकने के उपायों पर चर्चा करने के लिए 20 अप्रैल को बैठक करेगा.

गौतमबुद्ध नगर के CMO ने भी स्कूलों को निर्देश दिया है कि स्कूल में सर्दी-जुकाम या कोविड का मामला सामने आने पर तुरंत स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दी जाए. CMO ने चेतावनी दी कि अगर स्कूल प्रशासन मामलों को छिपाते हैं, तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

15 अप्रैल तक, दिल्ली में कोरोना वायरस के कुल एक्टिव केसों की संख्या 915 है. वहीं, उत्तर प्रदेश में ये संख्या 362 और हरियाणा में 644 है.

(इनपुट्स- हिंदुस्तान टाइम्स, इंडिया टुडे, एबीपी न्यूज)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×