बिहार: जिन्ना के नाम और घमासान, महागठबंधन का संकल्प पत्र- 5 खबरें

महागठबंधन के संकल्प पत्र में कैसे वादे? मोदी-राहुल का मिशन बिहार- बिहार चुनाव की खबरें

Published
बिहार चुनाव 2020
4 min read
बिहार विधानसभा चुनाव: 17 अक्टूबर की बड़ी खबरें
i

महागठबंधन के संकल्प पत्र में कैसे वादे? चुनावी आबोहवा में क्यों तैरने लगा जिन्ना का नाम? मोदी-राहुल का मिशन बिहार. बिहार चुनाव 2020(Bihar Assembly Election) से जुड़े अपडेट्स पढ़ने की इससे बढ़िया जगह कोई नहीं. तो ये रहीं Quint बिहार चुनाव के इस एडिशन की पांच खबरें.

1. चिराग बोले- मैं तो मोदी का हनुमान

LJP अध्यक्ष चिराग पासवान ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुझे मोदी की तस्वीर कहीं नहीं लगानी, वो मेरे दिल में बसते है. मैं उनका हनुमान हूं मेरा सीना चीर कर देख लें. मोदी के साथ था, हूं और रहूंगा.

इससे पहले उन्होंने एक ट्वीट कर विरोधियों पर करारा हमला किया है.

चिराग का ये बयान BJP नेताओं के बयान के बाद आया है. बीजेपी के कई नेताओं ने कहा कि चिराग चुनाव प्रचार में BJP नेताओं का नाम लेकर ‘भ्रम की राजनीति’ कर रहे हैं.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने LJP को वोटकटवा कहा है. एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चिराग ने बिहार में अलग राह पकड़ी. अब वो BJP के बड़े नेताओं का नाम लेकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं. हमारी कोई बी और सी टीम नहीं है. एनडीए को तीन चौथाई बहुमत मिलेगा. और चिराग की पार्टी वोटकटवा बनकर रह जाएगी.


दरअसल, JDU, BJP के नेताओं के बयान आ रहे हैं कि LJP NDA का हिस्सा नहीं है, इसलिए पार्टी के किसी बैनर, पोस्टर या भाषण में पीएम मोदी और बीजेपी का नाम नहीं लिया जाना चाहिए.

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी LJP को वोटकटवा कहा है.

2. मोदी और राहुल का मिशन बिहार

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में 12 रैलियां करेंगे. ये रैलियां वर्चुअल नहीं होंगी, बल्कि रियल होंगी, पीएम खुद वहां जाएंगे. शुरुआत 23 अक्टूबर को सासाराम से होगी. सभी रैलियों में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत सहयोगी दलों के नेता मौजूद रहेंगे.

  • 23 अक्टूबर: सासाराम, गया, भागलपुर
  • 28 अक्टूबर: दरभंगा, मुजफ्फरपुर, पटना
  • 1 नवंबर: छपरा, पूर्वी चंपारण और समस्तीपुर
  • 3 नवंबर: पश्चिमी चंपारण, सहरसा और फारबिसगंज

इन तारीख पर, इन्हीं जगहों पर पीएम जनता से रुबरु होंगे . बिहार में पीएम की सारी रैलियां BJP की नहीं, बल्कि NDA की होंगी. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस दे रहे हैं ताकि अलायंस में चली उठापटक से जनता कंफ्यूज न हो जाए.

वहीं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी की पहली रैली नवादा और सासाराम में होगी. वो 23 अक्टूबर से बिहार में चुनावी रैली शुरू करेंगे. वो एक दिन में दो से तीन सभाएं संबोधित करेंगे.

3. तेजस्वी ने युवाओं के बाद किसानों को लुभाया

बिहार चुनाव को लेकर महागठबंधन ने संकल्प पत्र जारी किया है.

तेज प्रताप और तेजस्वी यादव 
तेज प्रताप और तेजस्वी यादव 
(फोटोः @tejashwiYadav)

जानिए महागठबंधन के संकल्प पत्र की प्रमुख बातें

  • राज्य में खाली 4.50 लाख और 5.50 लाख सरकारी पदों पर भर्ती
  • सरकारी नौकरी के लिए फॉर्म पर लिए जाने वाले शुल्क को माफ किया जाएगा
  • किसान कर्जमाफी होगी
  • नियोजन सिस्टम खत्म की जाएगी. नियोजित शिक्षकों को स्थायी किया जाएगा.
  • विधानसभा के पहले दिन तीनों कृषि बिल के खिलाफ प्रस्ताव लाएंगे
  • शिक्षा पर राज्य के कुल खर्च का 12 फीसदी हिस्सा खर्च किया जाएगा

इससे पहले, RJD ने ऐलान किया था कि सरकार में आने के बाद बिहार में 10 लाख रोजगार दिए जाएंगे.

संकल्प पत्र की घोषणा के मौके पर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा. वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि ये चुनाव, नई दिशा बनाम दुर्दशा का चुनाव है. ये चुनाव, नया रास्ता-नया आसमान बनाम हिन्दू-मुसलमान का चुनाव है.

4. 5 सीटों पर BJP के खिलाफ LJP कैंडिडेट के नामों की घोषणा

पहले चरण में LJP ने BJP के किसी भी उम्मीदवार के खिलाफ अपना कैंडिडेट नहीं उतारा है, लेकिन दूसरे चरण के कैंडिडेट की लिस्ट में 5 सीटें ऐसी हैं जिसपर LJP ने BJP के सामने अपना उम्मीदवार उतारा है.

पार्टी ने दूसरे चरण के 53 कैंडिडेट की लिस्ट जारी कर दी है. इसमें गोविंदगंज और लालगंज दोनों LJP की सीटिंग सीटें हैं. इसके अलावा राघोपुर, रोसड़ा और भागलपुर में भी LJP ने कैंडिडेट उतारा है.

बता दें, राघोपुर से ही RJD के टिकट पर तेजस्वी यादव चुनाव लड़ रहे हैं.

5. जिन्ना का नाम, कांग्रेस और BJP में घमासान

BJP ने कांग्रेस उम्मीदवार पर जिन्ना समर्थक होने का आरोप लगाया है. कांग्रेस ने दरभंगा जिले के जाले विधानसभा सीट से अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के एक पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी को अपना उम्मीदवार बनाया है. उनकी उम्मीदवारी पर कांग्रेस के अंदर भी विरोध नजर आ रहा है. कांग्रेस के पूर्व विधायक और सीट से टिकट के दावेदार रहे ऋषि मिश्रा ने उस्मानी के जिन्नावादी होने का आरोप लगाया है.

BJP नेता गिरिराज सिंह ने हमलावर होते हुए कहा है-

देश में जिन्ना का क्या काम. कांग्रेस और तेजस्वी यादव बताएं कि उनके स्टार प्रचारक कहीं जिन्ना तो नहीं होंगे. जिस तरह से जिन्ना के समर्थक को कांग्रेस ने उम्मीदवार बनाया है, क्या वह जिन्ना के नाम पर वोट मांगेगी.
गिरिराज सिंह, केंद्रीय मंत्री और BJP नेता

कांग्रेस नेता हरखू झा ने कहा है कि BJP पहले अपनी गिरेबां झांके. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को अपना आदर्श मानने वाले BJP नेताओं को बेबुनियाद आरोप लगाने का हक नही हैं.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी छात्रसंघ का अध्यक्ष रहते हुए उस्मानी पर अपने कमरे में पाकिस्तान के जनक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगाने और जिन्ना का महिमामंडन करने के आरोप हैं.

कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने कहा है कि BJP के बड़े नेता ही जिन्ना के समर्थक हैं. वे जिन्ना की मजार पर गये थे. वहां से लौटकर उन्होंने जिन्ना की तारीफ भी की थी. ये बयान उन्होंने लाल कृष्ण आडवाणी के संदर्भ में दिया है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!