सोनिया गांधी से नहीं मिलेंगी मायावती, अभी भी सस्पेंस बरकरार
मायावती और सोनिया गांधी की मुलाकात वाली खबरों पर विराम
मायावती और सोनिया गांधी की मुलाकात वाली खबरों पर विराम(फोटो:PTI)

सोनिया गांधी से नहीं मिलेंगी मायावती, अभी भी सस्पेंस बरकरार

लोकसभा चुनाव नतीजों से ठीक पहले विपक्षी दल एक दूसरे को मनाने में जुटे हैं. सभी विपक्षी दलों की नजर फिलहाल यूपी पर टिकी हुई हैं. इसी को लेकर खबर थी कि मायावती सोमवार को दिल्ली आकर सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात कर सकती हैं. लेकिन बीएसपी महासचिव ने ऐसी सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है. उन्होंने कहा है कि मायावती का ऐसा कोई भी प्लान नहीं है. बीएसपी के एससी मिश्रा ने कहा कि मायावती जी का आज दिल्ली जाकर मीटिंग करने का कोई प्रोग्राम तय नहीं है. वह लखनऊ में ही रहेंगी.

Loading...

यूपी पर टिकी नजरें

कांग्रेस लगातार एसपी-बीएसपी से संपर्क साधने की कोशिशों में जुटी है. नतीजों से पहले दोनों पार्टियों को गठबंधन के लिए तैयार किया जा रहा है. चुनाव नतीजे सामने आने के बाद अगर जरूरत पड़ी तो यूपी के ये दो बड़े दल किंग मेकर साबित हो सकते हैं. हालांकि अखिलेश यादव इस बात के संकेत दे चुके हैं कि जरूरत पड़ने पर वो कांग्रेस को समर्थन दे सकते हैं. लेकिन मायावती ने अभी तक अपना पक्ष साफ नहीं किया है.

ये भी पढ़ें : चुनाव बाद बीजेपी के साथ नहीं जाएंगे मायावती और अखिलेश: राहुल गांधी

चुनाव खत्म होते ही जारी हुए कुछ एग्जिट पोल में उत्तर प्रदेश में एसपी-बीएसपी गठबंधन को जबरदस्त फायदा मिलता दिख रहा है. ABP Exit Poll के मुताबिक, यूपी में बीजेपी को बड़ा झटका लग सकता है. यहां गठबंधन को 56 सीटें मिलती दिख रहीं हैं. वहीं बीजेपी 22 सीटों पर सिमटती दिख रही है 

नायडू ने की थी मुलाकात

इससे पहले आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू ने भी यूपी जाकर अखिलेश यादव और मायावती से मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद वापस दिल्ली आकर नायडू ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की. बताया जा रहा है कि इस बैठक में मायावती को गठबंधन के लिए मनाने की कोशिश की गई. जिसके बाद मायावती और सोनिया गांधी के बीच दिल्ली में बैठक की खबरें सामने आई थीं.

ये भी पढ़ें : ‘मिशन दिल्ली’ पर नायडू, राहुल-पवार से लगातार दूसरे दिन भी मुलाकात

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our चुनाव section for more stories.

    Loading...