ये सरकार जब भी बोलती है झूठ ही बोलती है: अनुराग कश्यप

ये सरकार जब भी बोलती है झूठ ही बोलती है: अनुराग कश्यप

बॉलीवुड

मोदी सरकार की नीतियों पर लगातार हमलावर बॉलीवुड डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने जेएनयू छात्रों के समर्थन में आयोजित प्रदर्शन में हिस्सा लिया. क्विंट से खास बातचीत में कश्यप ने कहा कि जो हमारे छात्रों ने किया है वो काफी प्रेरणादायक है. कश्यप ने अपने चिर परिचित अंदाज में मोदी सरकार को भी निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि हम ऐसी सरकार से डील कर रहे हैं जो झूठ बोलकर चुनाव जीतने में यकीन रखती है.

Loading...

बच्चों में एनर्जी का लेवल अलग

अनुराग कश्यप ने बॉलीवुड के प्रदर्शनों में उतरने को लेकर कहा, ये मुंबई नहीं, फिल्म इंडस्ट्री नहीं. ये हमारे कारण नहीं हुआ है. .ये छात्रों ने किया है. ये बहुत प्रेरणादायी है. अद्भुत है. बच्चों में और यहां एनर्जी एक अलग लेवल पर है. मैं तो बहुत इंस्पायर हुआ हूं. क्योंकि वो एक मतलब की बात कर रहे हैं. वो एकता और प्यार की बात कर रहे हैं. वो गुस्से की बात ही नहीं कर रहे हैं. कश्यप ने कहा,

“मैं ट्विटर पर गुस्से में बात कर रहा हूं. वो एकता की बात कर रहे हैं. प्यार की बात कर रहे हैं, सभी को एक साथ लाने की बात कर रहे हैं. ये बहुत अद्भुत है और मैं उनसे बहुत कुछ सीख रहा हूं. ये अपनी आवाज उठा रहे हैं, इतने अच्छे लीडर निकलकर सामने आ रहे हैं. ये देख कर बहुत अच्छा लग रहा है, इतने अच्छे कवि हैं जो अपनी कविता सुना रहे हैं.”
अनुराग कश्यप

झूठ बोलती है सरकार

अनुराग कश्यप ने जेएनयू में हुई हिंसा और प्रोफेसर्स को पीटे जाने पर कहा, "यही उनका एजेंडा है, आप एक ऐसी सरकार से डील कर रहे हैं जो झूठ बोलती है, जिनका पूरा काम झूठ पर चलता है. हम एक ऐसी सरकार से डील कर रहे हैं. जिनका एक मात्र मुद्दा है चुनाव जीतना और वो किसी तरह की सहानुभूति नहीं रखते. वो सिर्फ अपने लिए काम करते हैं. बीजेपी जो कहती है मैं उस पर जरा भी विश्वास नहीं करता. अगर आज बीजेपी मुझे एक छोटा कपड़ा भी भेजेगी तो मुझे उस पर शक होगा." उन्होंने आगे विपक्ष पर लगने वाले आरोपों को लेकर कहा,

“मैं आपको गारंटी देता हूं कि एक दिन ऐसा आएगा जब जांच होगी और ये साबित होगा कि देश में जितने भी और जहां पर भी दंगे जैसे हालात बने या हिंसा हुई है. उसके पीछे बीजेपी का हाथ है और उस पर उनका कंट्रोल था और उन्होंने उसे भटकाया है, वे झूठे हैं, वो धोखा देते हैं. वो गुंडे हैं मेरे लिए.”

‘किसी के चुप रहने से मुझे कोई दिक्कत नहीं’

अनुराग कश्यप से जब पूछा गया कि क्या अब बॉलीवुड इंडस्ट्री को भी आवाज उठाने का मौका मिल गया है? क्योंकि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के आयोजित डिनर में जाने से कई सितारों ने इनकार कर दिया. इस पर उन्होंने कहा,

"जो लोग बोलते नहीं हैं, मैं उन्हें जज नहीं करूंगा. क्योंकि वो किस चीज से डर रहे हैं वो मुझे नहीं पता. अब एक आदमी का घर है, उसकी नौकरी है, उसकी बहुत सारी चीजें हैं. लेकिन जो उल्टा बोलता है उससे मुझे दिक्कत होती है. आदमी के चुप रहने से मुझे कोई दिक्कत नहीं है. क्योंकि उसको एक दिन आवाज मिलेगी. एक दिन उसके लिए भी अति हो जाएगी. और वो भी एक खौफ की हद तक पहुंच जाएगा. सभी नहीं गए, ये एक बहुत बड़ी जीत है. चुप रहना और सरकार के बुलावे पर ना जाना, मेरे लिए बहुत बड़ी जीत है."

फैज अहमद फैज की नज्म 'हम देखेंगे' पर हुए विवाद को लेकर कश्यप ने कहा, "कुछ चीजों को अनदेखा करना चाहिए, क्योंकि वो बेवकूफ हैं जहां वो एक स्थिति बनाना चाहते हैं. जो वो खुद मान चुके हैं, उसे थोपना चाहते हैं कि हमें ये करना है और पूरी दुनिया में ऐसी कई लोग हैं. जो ये मानते हैं कि ये मोदी हैं और अगर मैं ये करता हूं तो मोदी जी की नजर मुझपर पड़ेगी. मैं उन्हें अनदेखा करता हूं."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our बॉलीवुड section for more stories.

बॉलीवुड
    Loading...