ADVERTISEMENTREMOVE AD

कठुआ गैंगरेप पर भड़के फरहान, कहा- चुप हो तो इंसान नहीं हो सकते 

कठुआ गैंगरेप में 8 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप कर उसकी हत्या कर दी गई है.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

जम्मू कश्मीर के कठुआ में 8 साल की मासूम बच्ची के साथ हुए गैंगरेप ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. बकरवाल समुदाय की इस बच्ची के साथ गैंगरेप और जघन्य हत्या पर बॉलीवुड के स‍ितारे गुस्‍से में हैं. इस मामले में बॉलीवुड के कई सेल‍िब्र‍िटीज ने सोशल मीडिया पर घटना को बेहद शर्मनाक बताया है.

बॉलीवुड एक्टर फरहान अख्तर ने अपने फॉलोअर्स से बच्ची को न्याय दिलाने के लिए आवाज उठाने की गुजारिश की.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

फरहान ने ट्वीट करते हुए कहा है कि

जरा सोचिए कि 8 साल की बच्ची पर क्या बीतती होगी जब उसको ड्रग्स देकर कई दिनों तक गैंगरेप किया जाता हो. उसकी जान चले जाना बड़े दुख की बात है. अगर आप इसे एक बेहद खौफनाक हरकत नहीं मानते हैं तो आप इंसान नहीं हैं. अगर आप उसे न्याय दिलाने की गुहार नहीं लगा सकते तो आप किसी काम के नहीं हैं.

इस मामले में बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूर ने नाराजगी जताते हुए लिखा है कि घटना बेहद शर्मनाक है, मुझे यकीन नहीं हो रहा है क‍ि ये मेरे ही देश में हो रहा है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

सिमी ग्रेवाल ने भी सोशल मीडिया पर अपनी भड़ास निकालते हुए लिखा है कि, संसार में इंसान से ज्यादा निर्दयी जीव और कोई नहीं हो सकता. बच्ची का बलात्कार करने वाले लोग दानव हैं. कोई इतनी छोटी सी बच्ची के साथ ऐसा कैसे कर सकता है. मेरा सिर्फ एक ही सवाल है कि आखिर भगवान कहां है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

वहीं जावेद अख्‍तर ने भी इस मामले में ल‍िखा है क‍ि वो सभी लोग जो मह‍िलाओं को इंसाफ द‍िलाना चाहते हैं, इस मामले पर आवाज उठाएं.

डायरेक्टर शिरिष कुंदर ने एक आर्टिकल शेयर करते हुए लिखा कि, 'इसे पढ़िए और अगर ये पढ़कर आपका खून खौलता है, तो इसे शेयर करिये. क्योंकि कुछ लोगों इन राक्षसों का समर्थन कर रहे हैं, इसलिए इससे मालूम चलेगा कि थोड़ी इंसानियत अब भी बाकी है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

रितेश देशमुख ने न्याय की मांग करते हुए ट्वीट किया है उन्होंने लिखा है, 'एक 8 साल की बच्ची को ड्रग दिया गया, उसका रेप कर मर्डर किया गया और वहीं दूसरी ओर एक लड़की अपनी जान और अपने और पिता के इंसाफ के लिए लड़ रही है. हमारे पास एक विकल्प है, या तो हम अपनी आवाज बुलंद कर सकते हैं या मूक दर्शक बन सकते हैं. सही के लिए खड़े हों, भले ही आप अकेले क्यों न खड़े हों.

क्या है पूरा मामला

बता दें कि यह पूरा मामला 12 जनवरी को सामने आया था जब लड़की के पिता मोहम्मद यूसुफ ने हीरानगर थाने में केस दर्ज कराया था.बच्ची 10 जनवरी को जंगल में घोड़े के लिए चारा लेने गई थी. जिसके बाद वो फिर कभी वापस नहीं लौटी. पुलिस में एफआईआर कराने के बाद मामले की जांच शुरू की गई. जिसके बाद मामला सामने आया कि बच्ची को बंधक बनाकर एक मंदिर में रखा गया था और कई दिनों तक रेप किया गया. बाद में उसकी हत्या कर दी गई.

यह भी पढ़ें: कठुआ: बच्ची को जिंदा रखा, ताकि उसके साथ आखिरी बार फिर रेप कर सके

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×