ADVERTISEMENT
सूर्यवंशी रिव्यू: न कहानी,न लॉजिक, अक्षय-कटरीना की फिल्म में एक्शन भी दमदार नहीं
i

सूर्यवंशी रिव्यू: न कहानी,न लॉजिक, अक्षय-कटरीना की फिल्म में एक्शन भी दमदार नहीं

फिल्म में कटरीना कैफ के किरदार को इस तरह से ट्रीट किया गया है, जैसे पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं को किया जाता है.

Updated

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

Sooryavanshi

न कहानी, न लॉजिक, अक्षय-कटरीना की 'सूर्यवंशी' में एक्शन भी दमदार नहीं

ADVERTISEMENT

कोविड महामारी के कारण लगभग डेढ़ साल से बंद पड़े थियेटर्स, अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की बड़ी दिवाली रिलीज 'सूर्यवंशी' के साथ खुल गए हैं. रोहित शेट्टी के डायरेक्शन में बनी एक्शन फिल्म 'सूर्यवंशी' 5 नंवबर को रिलीज हुई. फिल्म में कटरीना कैफ, जैकी श्रॉफ और गुलशन ग्रोवर भी लीड रोल में हैं.

'सूर्यवंशी' में एक saviour complex है. वो सभी का रखवाला है. वो हाजिर है आपको और हमें बचाने के लिए. किससे? पता नहीं!
ADVERTISEMENT

रोहित शेट्टी की फिल्म के 15 मिनट में कई किरदार दिखाए जाते हैं और बताया जाता है कि दुश्मन वही पड़ोसी देश है. RDX, लश्कर स्लीपर सेल, बॉम्ब ब्लास्ट जैसे शब्द हर थोड़ी देर में आते हैं. फिर बताया जाता है कि 600 किलो RDX है, जिसका पता लगाना है. इस बात को इतनी बार दोहराया जाता है कि आप इसे चाहकर भी भुला नहीं पाएंगे.

'सूर्यवंशी' साउंड ट्रैक भी फिल्म में हर थोड़ी देर में प्ले किया जाता है, जो इरिटेटिंग लगता है.
ADVERTISEMENT

'सूर्यवंशी' में मेकर्स ने इस बात का पूरा ध्यान रखा है कि हीरो एक ही रहे और पूरी तरह से उभरकर सामने आए. दूसरे किरदार इसी तरह से गढ़े गए हैं जिससे अक्षय कुमार और लार्जर देन लाइफ लगें.

इसकी उम्मीद थी, लेकिन दूसरे किरदारों को जरा भी सेंटर स्टेज लेने नहीं दिया गया है. निकेतन धीर, अभिमन्यु सिंह, विवान भतेना पर फोकस नहीं है.

ADVERTISEMENT

फिल्म में एक सीन है, जिसमें एक पुलिस अफसर खुद निशाना लगाने की बजाय अक्षय कुमार को बंदूक देता है ताकि वो देश के दुश्मन को मार सके. फिल्म में ऐसे ही दूसरे सीन हैं, जहां हीरो को 'हीरो' बनाने की कोशिश की गई है.

फिल्म में स्टोरी और लॉजिक की उम्मीद हटा भी दें, तो भी एक्शन सीक्वेंस इतने दमदार नहीं कि फिल्म को अपने कंधों पर उठा सकें. रोहित शेट्टी की पुरानी फिल्मों की तरह इसमें भी कारें उड़ती हैं, सिलेंडर फटते हैं, पानी पर पीछा करने का सीन है, आसमान में हेलिकॉप्टर है... लेकिन मजेदार कुछ नहीं है.

ADVERTISEMENT

कटरीना कैफ के किरदार को इस तरह से ट्रीट किया गया है, जैसे पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं को किया जाता है. कटरीना को ज्यादा डायलॉग्स नहीं दिए गए हैं. उनके और अक्षय कुमार की लव स्टोरी को एक गाने में खत्म कर दिया गया है.

फिल्म में देश के दुश्मन थीम के जरिये एक फिलॉसिफी दिखती है, 'गुड मु्स्लिम और बैड मुस्लिम' की. फिल्म में डायलॉग है- "इस देश में जितनी नफरत कसाब के लिए है, उतना प्यार कलाम के लिए है." आतंकी हमले को रोकने के लिए मुस्लिम और हिंदू एक साथ आते हैं. हालांकि, अपनी वफादारी साबित करने की जिम्मेदारी केवल एक समुदाय पर ही क्यों होनी चाहिए, इसका जवाब फिल्म कभी नहीं देती.

'सूर्यवंशी' को 5 में से 2.5 क्विंट!

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×