भारत को जगाने के लिए निर्भया जैसे केस की जरूरत है?-सोना महापात्रा

सचिन तेंदुलकर से पूछा क्या आपको मीटू के किस्सों के बारे में पता है?

Updated29 Oct 2019, 05:22 PM IST
सितारे
2 min read

बॉलीवुड सिंगर सोना महापात्रा ने ट्वीट कर पूछा कि क्या भारत को जगाने के लिए निर्भया जैसे कांड की जरूरत हैं. मंगलवार को सोना महापात्रा ने ट्वीट कर एक बार फिर से #MeToo की बहस छेड़ दी है. सोना ने कहा कि अनु मलिक पर जो आरोप उन्होंने लगाए उसकी वजह से उनको एक शो में जज से हटा दिया गया. इसके साथ-साथ सोना ने विशाल डडलानी और सचिन तेंदुलकर को टैग करते हुए ही ट्विटर पर उनसे सवाल पूछे हैं.

सोना महापात्रा ने ट्वीट किया, ‘‘क्या भारत को जगाने के लिए निर्भया जैसे कांड की जरूरत पड़ेगी? इन सब खबरों के छपने के बाद मुझे जज की सीट पर से हटा दिया गया था. मुझसे मेरे को-जज ने कहा कि मैंने अनु मलिक को पब्लिसिटी दी जिससे हमारे प्रतिद्वंद्वी शो की टीआरपी बढ़ गई. एक साल बाद वो आरोपी फिर से अपनी कुर्सी पर है.’’

सोना ने सचिन तेंदुलकर से पूछा, #MeToo के बारे में पता है?

सोना महापात्रा ने ट्विटर पर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर से भी सवाल किया है. सोना ने ट्वीट किया, ‘‘डियर सचिन, क्या आपको इंडिया मीटू से जुड़ी महिलाओं की कहानियों के बारे में पता है जो अनु मलिक के खिलाफ सार्वजनिक तौर पर बाहर आए थे. जो इसी इंडियन आइडल शो में फिर से जज बने हैं. क्या उन महिलाओं की कहानी किसी की संवेदनाओं को नहीं छूती’’

सचिन तेंदुलकर ने इंडियन आइडल के कटेंस्टेंट की तस्वीर ट्वीट की थी और उनके बारे में लिखा था कि वो उनकी कला से प्रभावित हैं.

विशाल डडलानी की बातें बेमतलब की होती हैं:सोना

सोना महापात्रा ने एक ट्वीट में ये भी कहा जब उनको पता चला की अनु मलिक को फिर से इंडियन आइडल का जज बनाया गया था तो उन्होंने संगीतकार विशाल डडलानी से बात की थी. उस वक्त उन्होंने कई बातें कहीं जिनमें ज्यादातर ऐसी थी कि वो अच्छा महसूस कर रहे हैं. लेकिन अपना नाम नहीं जाहिर करने देना चाहते थे. सोना ने ये भी लिखा कि मुझे विशाल का नाम लेने की जरूरत भी नहीं पड़ी क्योंकि विशाल की बातें बेमतलब की होती हैं.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 29 Oct 2019, 05:14 PM IST
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!