Bigg Boss 13:Fixed Winner के आरोपों पर क्या बोले सिद्धार्थ शुक्ला?

महिलाओं का सम्मान न करने के आरोपों पर क्या बोले सिद्धार्थ?

Updated16 Feb 2020, 01:23 PM IST
टीवी
2 min read

सिद्धार्थ शुक्ला की जीत पर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ी हुई है. बिग बॉस का खिताब जीतने के बाद से ही सोशल मीडिया पर कुछ लोग शो मेकर्स पर पक्षपात का आरोप लगा रहे हैं. अब सिद्धार्थ शुक्ला ने खुद फिक्स्ड विनर के आरोपों पर जवाब दिया है. सिद्धार्थ ने फिक्स्ड विनर की बात को नकारा है और इस तरह की सोच के प्रति नाराजगी जाहिर की है.

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में फिक्स्ड विनर के आरोपों पर सिद्धार्थ शुक्ला ने कहा, "ऐसी बातों पर आप क्या कह सकते हैं. मैंने काफी मुश्किल जर्नी के बाद यह खिताब जीता. इस पर जब कोई ऐसा सवाल करता है, तो दुख होता है."

सिद्धार्थ शुक्ला ने आगे कहा-

जो लोग ऐसा सोचते हैं, मैं ऐसे लोगों के लिए सॉरी फील करता हूं. अगर आपने शो देखा है तो आपको पता होगा कि यह मेरे लिए आसान नहीं था. ऐसा नहीं है कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है, लेकिन आप हर सवाल का जवाब नहीं दे सकते.

सिद्धार्थ शुक्ला ने कहा, "ट्रॉफी जीतना खास फील कराता है या दुख होता है, मैं वास्तव में नहीं जानता. जब आप कुछ अच्छा काम नहीं करते हैं तो आपको पछतावा होता है. लेकिन मैं शो जीतने में कामयाब रहा इसलिए मैं वास्तव में इस बारे मेंर कुछ नहीं कह सकता."

महिलाओं का सम्मान न करने के आरोपों पर क्या बोले सिद्धार्थ

शो में सिद्धार्थ पर कई बार महिलाओं का सम्मान न करने का आरोप लगा है. इसपर सिद्धार्थ ने अपना रुख स्पष्ट करते हुए कहा, "जो लोग मुझे जानते हैं वो इस बात को मानेंगे कि मैं वास्तव में ऐसा नहीं हूं. किसी पर आरोप लगाना आसान होता है, लेकिन जब आप इस मामले में गहराई से जाते हैं, तो आपको पता चलता है कि कैसा महसूस होता है."

बता दें, बिग बॉस-13 के घर में करीब पांच महीने बिताने के बाद एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला को विजेता घोषित किया गया. उन्होंने अपने आसिम रियाज को हराया. सिद्धार्थ ने 'बिग बॉस 13' की ट्रॉफी के साथ ही 50 लाख रुपए भी जीते. शो में रहने के दौरान सिद्धार्थ ने दर्शकों का खूब मनोरंजन किया. वहीं आसिम के साथ उनकी लड़ाई, शहनाज गिल के साथ उनकी दोस्ती और रश्मि देसाई के साथ उनकी 'ऐसी लड़की' विवाद ने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 16 Feb 2020, 12:43 PM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर को और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!